हरियाणा

करनाल जश हत्याकांड मामले में आरोपी महिलाएं 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में

Gulabi Jagat
15 April 2022 11:41 AM GMT
करनाल जश हत्याकांड मामले में आरोपी महिलाएं 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में
x
करनाल जश हत्याकांड मामला
करनाल: बहुचर्चित जश हत्याकांड (Jash murder case) में गिरफ्तार तीनों आरोपी महिलाओं को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया जहां से उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. कोर्ट में पेश करने से पहले तीनों को करनाल के नागरिक अस्पताल के ट्रामा सेंटर में मेडिकल भी कराया गया था. सीआईए इंस्पेक्टर मोहनलाल इस पूरे मामले को देख रहे थे. उन्होंने इंद्री कोर्ट में मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमारी तफ्तीश लगभग पूरी हो चुकी है.
उन्होंने बताया कि आज इन तीनों के रिमांड का समय खत्म होने के बाद तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया है जिनको 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. मामले की जांच लगभग पूरी हो चुकी है. जो कुछ थोड़ा बहुत रहता है उस पर भी हमारी टीम काम कर रही है. उन्होंने कहा कि अंजली का दिमागी संतुलन से ठीक नहीं थी जिसके चलते डॉक्टर के एक मेडिकल बोर्ड के द्वारा कुछ रिपोर्ट ली गई थी. वह रिपोर्ट आनी बाकी है और एफएसएल की रिपोर्ट आने भी बाकी है जो कल तक हमें मिल जाएगी.
तीनों आरोपी महिलाओं को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गयाउस आधार पर हम पूरी डिटेल कल मीडिया को बताएंगे. वहीं हमारी जांच में अंजली ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है और जो दो अन्य महिलाएं हैं उनको सबूत मिटाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. जिसकी पुष्टि हो चुकी है. इस मामले में किसी और व्यक्ति की शामिल होने की कोई पुष्टि नहीं हुई. हमने जिस जिस तथ्य को आरोपियों के घरों से जुटाया है उन सभी की वीडियोग्राफी भी की गई है. जब मीडिया ने उनसे सवाल किया कि अंजली कई बार आत्महत्या करने की कोशिश कर चुकी है, तो अगर जेल में भी कुछ ऐसा किया तो क्या होगा, इस पर मोहनलाल ने कहा कि उनको विशेष निगरानी में रखा जाएगा ताकि वह कोई आत्महत्या करने वाला जैसा कदम ना उठाए.
क्या है जश हत्याकांड करनाल- घटना करनाल के कमालपुर रोड़ान गांव की है. 5 अप्रैल की दोपहर में जश अपनी मां से पैसा लेकर खाने की चीज खरीदने के लिए निकला था. उसके बाद वो लापता हो गया. बाद में परिवार के विकास ने शिकायत दी कि उसके ताऊ के लड़के रामफल का पांच साल का बच्चा जश सुबह 11:30 बजे से गायब है. जश के घरवालों ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एक बाबा पर शक जाहिर किया. सीसीटीवी फुटेज में बाबा की चाल और थैले की बड़ी साइज को देखकर सबको उसी पर शक हुआ.
पुलिस ने इस मामले में संदिग्ध बाबा को हिरासत में लिया. पूछताछ के दौरान बाबा की भूमिका नहीं पाई गई. इसके बाद गांव में पुलिस ने गांव वालों के साथ सर्च अभियान चलाया. 6 अप्रैल सुबह पुलिस के सर्च अभियान में 10 से 12 घरों की तलाशी बाकी थी. इसी दौरान बच्चे का शव पड़ोस के घर में जानवरों के लिए बनी टीन की छत पर फेंक दिया गया. टीन की छत पर बच्चे के गिरते ही हड़कंप मच गया. पशुओं को चारा डाल रही महिला कौशल्या ने शोर मचाना शुरू किया तो लोग मौके पर पहुंचे. इस हत्या के आरोप में पुलिस ने जश की चाची अंजली को गिरफ्तार किया था. इस मामले में एसआईटी टीम द्वारा बुधवार को दो और महिला आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. दोनों महिला आरोपियों के संबंध में जांच में ये खुलासा हुआ कि दोनों ने सबूत मिटाने के लिये बच्चे के शव को अपनी छत से पड़ोसी के घर की छत पर फेंक दिया था.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta