हरियाणा

मरीजों ने नागरिक अस्पताल के स्टाफ और डॉक्टर पर लगाया अवैध पैसे वसूलने का आरोप

Shantanu Roy
1 Nov 2021 7:24 AM GMT
मरीजों ने नागरिक अस्पताल के स्टाफ और डॉक्टर पर लगाया अवैध पैसे वसूलने का आरोप
x
मरीजों ने नागरिक अस्पताल (Civil Hospital Palwal) के स्टाफ और डॉक्टर पर गंभीर आरोप लगाए हैं. मरीजों के मुताबिक डॉक्टर उसने ऑपरेशन के नाम पर लाखों रुपये की वसूली कर रहे हैं

जनता से रिश्ता। मरीजों ने नागरिक अस्पताल (Civil Hospital Palwal) के स्टाफ और डॉक्टर पर गंभीर आरोप लगाए हैं. मरीजों के मुताबिक डॉक्टर उसने ऑपरेशन के नाम पर लाखों रुपये की वसूली कर रहे हैं. इस वसूली (Civil Hospital patients accused on doctors) में अस्पताल के चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी से लेकर ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर तक शामिल हैं. मरीजों के मुताबिक आयुष्मान कार्ड धारकों और बीपीएल परिवारों से भी पैसा वसूला जा रहा है.

मरीजों का आरोप है कि ये अवैध लूट काफी वक्त से जारी है. इलाज के खर्च की मरीजों को रसीद तक नहीं दी जाती. अस्पताल में दाखिल मरीजों और उनके परिजनों ने अस्पताल के दो हड्डी रोग विशेषज्ञों पर ये आरोप लगाय है. जिनमें डॉक्टर संदीप सोनी, और डॉक्टर सचिन शामिल हैं. उन पर पैसे लेकर ऑपरेशन करने का आरोप लगा है. 55 वर्षीय महिला सरोज ने बताया कि उसके हाथ का ऑपरेशन किया गया और उसकी एवज में उनसे ₹5000 मांगे गए. -
सरोज आयुष्मान कार्ड धारक है और इस कार्ड के अनुसार उसका पूरा खर्चा सरकार को उठाना है. महिला के परिजनों ने कहा कि जब वो अपने मरीज को ऑपरेशन के बाद बाहर ला रहे थे तो चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ने उनके पास आकर ऑपरेशन थिएटर में आने के लिए कहा जिसके बाद उनसे वहां पर 5000 की मांग की गई और जब उन्होंने पैसे देने से मना किया तो उनके साथ डॉक्टर के द्वारा अभद्र व्यवहार किया गया.
पैसे लेने का दूसरा आरोप होडल के रहने वाले तेजपाल ने लगाया है. जिनके पैर और हाथ में फैक्चर है. मरीज का आरोप है कि उनका ऑपरेशन करने के नाम पर उनसे ₹20000 लिए गए. तेजपाल खुद एक बीपीएल परिवार से संबंध रखते हैं, लेकिन उनको इलाज कराने की एवज में 20 हजार रुपये की कीमत चुकानी पड़ी और इस पैसे की उनको किसी प्रकार की कोई रसीद नहीं दी गई. तीसरी मरीज बीपीएल परिवार से संबंध रखने वाली महिला हैं. जो फरीदाबाद के नंगला गांव की रहने वाली हैं.
विमला ने कहा कि उसके बच्चे के हाथ में फैक्चर हो गया था और इसका ऑपरेशन करने के नाम पर अस्पताल के स्टाफ कर्मचारी ने ₹6000 ले लिए. डॉक्टर संदीप सोनी और डॉक्टर सचिन ये दोनों ही सिविल अस्पताल में बतौर हड्डी रोग विशेषज्ञ तैनात हैं और दोनों पर ही ऑपरेशन की एवज में पैसे लेने का आरोप लग रहा है. संदीप को सिविल अस्पताल में हड्डी रोग विशेषज्ञ साथ-साथ RMO भी बनाया गया है. जब संदीप से इन सभी मामलों को लेकर बात की गई तो उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच कराई जाएगी और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta