हरियाणा

किसान के 12 साल के बेटे ने बनाए 3 ऐप, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम

Bhumika Sahu
6 Aug 2022 12:04 PM GMT
किसान के 12 साल के बेटे ने बनाए 3 ऐप, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम
x
गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम

चंडीगढ़: हरियाणा के झज्जर जिले के रहने वाले कार्तिकेय जाखड़ ने कुछ ऐसा कर दिखाया है, जिसे करने में बड़े-बड़ों के भी पसीने छूट जाते हैं। दरअसल, कक्षा 8 में पढ़ने वाले कार्तिकेय जाखड़ ने बिना किसी से सहायता लिए 3 मोबाइल ऐप बना डाले हैं। यह तीनों ऐप पढ़ाई से जुड़े हुए हैं। ऐप को बनाने के बाद कार्तिकेय जाखड़ का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है। इसके साथ ही उनका हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में जाने का रास्ता भी खुल गया है।

12 वर्षीय कार्तिकेय ने बताया कि उनके पिता अजीत सिंह एक किसान हैं। कार्तिकेय के लिए उनके पिता ने लॉकडाउन में एक 10,000 रुपए का स्मार्टफोन खरीदा था। कार्तिकेय ने बताया कि कोडिंग करने के दौरान कई बार मेरा स्मार्टफोन हैंग हो जाता था। कार्तिकेय अपनी पढ़ाई यूट्यूब के जरिए ही करते थे। इस दौरान कार्तिकेय ने कुल 3 ऐप बनाए। पहला ऐप जनरल नॉलेज से संबंधित है, जिसका नाम उन्होंने लुसेंट जीके ऑनलाइन रखा। दूसरा ऐप है राम कार्तिक लर्निंग सेंटर जो कोडिंग और ग्राफिक डिजाइनिंग की शिक्षा देता है। वहीं, तीसरा ऐप है श्री राम कार्तिक डिजिटल एजुकेशन।
कार्तिकेय द्वारा बनाए गए ये ऐप 45,000 से ज्यादा स्टूडेंट्स को मुफ्त प्रशिक्षण दे रहे हैं। कार्तिकेय ने बताया कि उन्हें देश के पीएम नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया अभियान से प्रेरणा मिली है। 12 वर्षीय कार्तिकेय को इतनी कम उम्र में कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों से नवाज़ा जा चुका है। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद कार्तिक को वहां पढ़ने के लिए स्कॉलरशिप भी मिली है। कार्तिकेय हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस में Bsc कर रहे हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta