हरियाणा

बिजली की 11 हजार हाई वोल्टेज तार टूटकर बाइक सवार पर गिरी, मौके पर मौत

Gulabi Jagat
11 May 2022 1:00 PM GMT
बिजली की 11 हजार हाई वोल्टेज तार टूटकर बाइक सवार पर गिरी, मौके पर मौत
x
11 हजार हाई वोल्टेज तार टूटकर बाइक सवार पर गिरी
पलवल: जटोला गांव (Jatola Village Palwal Haryana) में बिजली विभाग की लापरवाही सामने आई है. यहां बिजली की 11 हजार हाई वोल्टेज तार टूटकर बाइक सवार पर गिर गई. जिसकी वजह से बाइक सवार की मौते पर मौत (youth died in palwal) हो गई. खबर है कि जटोला गांव निवासी 28 साल का सुनील निजी कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता था. वो घर से नौकरी के लिए बाइक पर निकला ही था कि रास्ते में बिजली का 11 हजार हाई वोल्टेज का तार टूटकर उसके ऊपर गिर गया.
करंट लगने से सुनील की मौके पर मौत हो गई. हाई वोल्टेज बिजली की वजह से सुनील की डेड बॉडी में आग लग गई. जिससे गुस्साए परिजनों ने स्थानीय लोगों के साथ जटोला-ततारपुर-असावटी रोड पर जाम लगा दिया. घटना की सूचना मिलते ही पलवल एसडीएम वैशाली सिंह और जिला पुलिस की टीम मौके पर पहुंची. काफी समझाने के बाद परिजनों ने जाम खोला. मृतक सुनील के परिजनों ने प्रशासन से परिवार से एक सदस्य को सरकारी नौकरी और सुनील के बच्चों के पालन-पोषण के लिए उचित मुआवजे की मांग की है.स्थानीय लोगों को मुताबिक ये हादसा बुधवार की सुबह करीब 6 बजे हुआ. जब सुनील बाइक पर सवार होकर अपने घर से गांव दूधोला स्थित कंपनी में ड्यूटी के लिए जा रहा था. गांव से बाहर निकलते ही जटोला-ततारपुत मार्ग पर 11 हजार वोल्टेज बिजली की तार टूटकर सुनील के हाथ के ऊपर गिर गई और करंट से आग लगकर उसकी मौके पर ही मौत हो गई. स्थानीय लोगों के मुताबिक तीन-चार दिन से हाई वोल्टेज बिजली का ये तार स्पार्किंग कर रहा था. इस बारे में बिजली विभाग को बताया भी गया, लेकिन उनकी तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई. जिसकी वजह से ये हादसा हुआ.
मृतक के चाचा रामपत ने बताया कि सुनील गांव दूधोला स्थित एंड्राइज कंपनी में काम करता था. घर में वो कमाने वाला अकेला ही था. उसके दो बच्चे और दो छोटी बहनें हैं. एक बहन की शादी हो चुकी है. जबकि एक बहन अभी भी कुंवारी है. सुनील की मौत के बाद उनके परिवार के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है. वहीं पलवल एसडीएम वैशाली सिंह और बिजली विभाग के ऐसई जोगिंदर हुड्डा भी मौके पर पहुंचे और परिजनों को आश्वासन दिया कि परिवार को उचित मुआवजा दिया जाएगा. इसके साथ एक सदस्य को योग्यता के आधार पर बिजली विभाग में नौकरी दी जाएगी. उन्होंने कहा कि अगर विभाग के किसी कर्मचारी की इस मामले में लापरवाही पाई जाती है, तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होगी.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta