छत्तीसगढ़

किसान के घर ग्रामीणों ने घुसकर की मारपीट, शराब बेचने का लगाया था आरोप

Shantanu Roy
8 Sep 2021 3:38 AM GMT
किसान के घर ग्रामीणों ने घुसकर की मारपीट, शराब बेचने का लगाया था आरोप
x

Demo Pic

छत्तीसगढ़

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। बिलासपुर। कोटा क्षेत्र के खरगहनी में शराब बेचने का आरोप लगाकर घर में घुसे लोगों ने ग्रामीणों की पिटाई कर दी। मारपीट के दौरान ग्रामीण के शोर मचाने पर हमलावर भाग निकले। पीड़ित ने इसकी शिकायत कोटा थाने में की है। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। कोटा के खरगहनी नरवापारा में रहने वाले दीपक पोर्ते (31 वर्ष) वर्ष किसान हैं।

उन्होंने अपनी शिकायत में बताया कि रविवार की रात 11 बजे वे अपने घर में खाना खाकर सो रहे थे।इस दौरान एक युवक पैदल उनके घर के पास आया। उसने दीपक को जगाकर शराब की मांग की। इस पर उन्होंने शराब बेचने से मना किया। इसी बीच कार से उतरकर दो लोग और आ गए। उन्होंने दीपक पर आरोप लगाते हुए घर में शराब रखने की बात कही। इस पर दीपक ने अपने भाई सुनील को उठाया। इस बीच अनजान युवक उनके घर में शराब खोजने लगे।

नहीं मिलने पर उन्होंने घर के पीछे बाड़ी में भी खोजबीन की। इसके बाद तीनों ने मिलकर दीपक और उसके भाई सुनील से मारपीट शुरू कर दी। मारपीट के दौरान श्ाराब नहीं देने पर जान से मारने की धमकी देने लगे। इस बीच उनका शोर सुनकर आसपास के लोग भी जाग गए। पड़ोसियों के आने से पहले ही युवक कार से वहां से भाग निकले। पीड़ित ने गांव वालों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद दूसरे दिन कोटा थाने पहुंचकर इसकी शिकायत की है।
आबकारी अमला समझकर कर रहे थे सहयोग
पीड़ित ने बताया कि आसपास के गांव में कई लोग शराब बनाते हैं। इसकी जांच के लिए आबकारी अमले की टीम आती है। पीड़ित युवकों ने शराब मांगने वालों को पहले आबकारी विभाग के अधिकारी समझे। बाद में जब युवक मारपीट करने लगे तो उन्हें पता चला कि वे आबकारी विभाग के अधिकारी नहीं है। इसके बाद उन्होंने शोर मचाना शुरू कर दिया।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta