छत्तीसगढ़

काम नहीं आया गांजा तस्करों का ये जुगाड़, नाकेबंदी के दौरान पकड़ा गया

Janta Se Rishta Admin
23 July 2022 5:15 AM GMT
काम नहीं आया गांजा तस्करों का ये जुगाड़, नाकेबंदी के दौरान पकड़ा गया
x

रायगढ़। ओडिशा से आने वाले मादक पदार्थों पर रोक लगाने सक्रियता के साथ कार्रवाई लेकर निर्देश क्राइम समीक्षा बैठक में पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना ने दिए हैं। इस पर पुलिस ने अपने मुखबिरों को सक्रिय किया है। ओडिशा से सारंगढ मार्ग पर दनसरा वन विभाग बेरियर के पास संदिग्ध कार को पुलिस ने रोककरर जांच की। जांच में पाया कि कार में एक बाक्स बनाकर एक—एक किलोग्राम के 50 पैकेट को रखा गया था। तस्कर गांजा लेकर ओडिशा से मध्यप्रदेश के छतरपुर जा रहे थे। कार में सवार एक अन्य युवक पर पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की है।

वन विभाग के बेरियर के पास सारंगढ़ पुलिस ने नाकेबंदी की थाी। इसी दौरान कार क्रमांक एमपी-20-सीडी 5947 को बरगढ़ ओडिशा की ओर से आते देखा। इस रोककर जांच करने पर एक अतिरिक्त बाक्स मिला। कार की डिक्की के नीचे गोपनीय ढंग से बने केबिन में गांजा के पैकेटों को रखा गया था। पूछताछ में आरोपित ने अपना नाम आशीष गोस्वामी पिता राजेंद्र गोस्वामी 33 वर्ष निवासी दूधनाथ कालोनी गायत्री मंदिर के पास संस्कार वाटिका थाना सिटी कोतवाली जिला छतरपुर मध्य प्रदेश, लखन राकेसिया पिता जगदीश राकेसिया 34 वर्ष निवासी वार्ड क्रमांक 32 संस्कार वाटिका के पीछे छतरपुर थाना मध्य प्रदेश बताया। दोनों आरोपितों ने पुलिस को बताया कि गांजा को बरगढ़ ओडिशा से छतरपुर लेकर जा रहे थे। आरोपियों के जब्त गांजा की कीमत करीब पांच लाख रुपये पुलिस ने बताया है। तस्करी में उपयोग किए गए वाहन को जब्त किया गया है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta