छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के इस जिले में थमी कोरोना की रफ्तार, 10 दिनों में नहीं मिला एक भी मरीज

Janta Se Rishta Admin
14 Oct 2021 9:53 AM GMT
छत्तीसगढ़ के इस जिले में थमी कोरोना की रफ्तार, 10 दिनों में नहीं मिला एक भी मरीज
x

रायपुर। मार्च 2020 में कोरोना के देश में प्रवेश के साथ मानों हर तरफ कोरोना का बोल बाला था। समय के साथ पहली एवं दूसरी लहर से जन जीवन के साथ अर्थव्यवस्था भी थम सी गयी थी। ऐसे में कोरोना वायरस के टीके के साथ वर्ष 2021 उम्मीद की एक नयी किरण के साथ आया था। टीकाकरण का व्यापक अभियान चलाये जाने से कोरोना की रफ्तार दिन-ब-दिन घटती गयी एवं जन जीवन वापस समान्य स्थिति पर आने लगा। जिसके लिए जिला प्रशासन द्वारा रणनीति तैयार कर टीकाकरण एवं जागरूकता अभियान पूरे जिले में चलाया था। जिसका प्रभाव अब फलीभूत होने लगा है। जिले में विगत् 10 दिनों में एक भी कोविड-19 पॉजिटिव प्रकरण नही पाया गया।

45 से अधिक में 98.40 एवं 18-45 आयु वर्ग में 65.81 प्रतिशत हुआ टीकाकरण

जिला प्रशासन ने लॉक डाउन के खुलने के साथ वृहद् स्तर पर जागरूकता एवं टीकाकरण अभियान को संपादित किया। जिसके लिए कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने जिले में टास्क फोर्स की नियमित बैठक लेते हुए टीकाकरण हेतु नवीन रणनीति अपनाते हुए टीकाकरण अभियान को जन-जन तक पहुंचाने के लिए सभी विभागों को एकजुट कर सामूहिक रूप से टीकाकरण अभियान से जोड़कर मैदानी स्तर के सभी कर्मचारियों को अभियान में शामिल किया। जिसके तहत गांव गांव में टीकाकरण शिविरों का आयोजन कर ग्राम के मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, ग्राम शिक्षक, सचिव, आरएईओ आदि सभी मैदानी कर्मचारियों को टीकाकरण शिविरों तक लोगों को लाने एवं टीकाकरण जागरूकता प्रसार की जिम्मेदारी दी गयी।

इसी रणनीति का परिणाम है कि 13 अक्टूबर तक 45 से अधिक उम्र वाले 98.40 प्रतिशत व्यक्तियों को टीके की प्रथम एवं 44.41 प्रतिशत को द्धितीय डोज लगायी जा चुकी है। वहीं 18 से 44 आयु वर्ग में अब तक 65.81 प्रतिशत को प्रथम एवं 19.07 प्रतिशत लोगों को टीके की द्धितीय डोज लगायी जा चुकी है। इसके साथ ही अब जिले में एक भी धनात्मक प्रकरण ना होने के साथ सभी माइक्रो कंटेनमेंट जोन, कंटेनमेंट जोन को समाप्त कर दिया गया है। इसके बाद भी जिला प्रशासन कोरोना को जड़ से खत्म करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। जिसके तहत् जिले में 700 से अधिक लोगों की कोरोना जांच कर सैम्पल प्रतिदिन एकत्रित किये जा रहे है।

ज्ञात हो कि जिले में 13 अक्टूबर तक कुल 305059 लोगों की कोरोना जांच की गयी है। जिसमें से 12922 व्यक्ति कोविड-19 पॉजिटिव पाये गये थे। जिनके उपचार के लिए जिला अस्पताल में डेडिकेटेट कोविड हास्पिटल के साथ सभी विकासखण्डों में कोविड केयर सेंटरों एवं जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति निरंतर बनाये रखने के लिए ऑक्सीजन प्लांट की भी स्थापना की गयी थी।

आगामी उत्सवों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने जिला प्रशासन की अपील

कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण प्राप्त करने के बाद जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने आगामी उत्सवों एवं त्योहारों के मौसम को देखते हुए लोगों से अपील की है कि कोविड-19 के प्रकरणों को शून्य करने के लक्ष्य को ले कर जिला प्रशासन प्रयास कर रहा है ऐसे में जिले के नागरिक भी अपना सहयोग दे एवं कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए भीड़-भाड़ वाले स्थलों पर जाने से बचे एवं अधिक से अधिक मास्क का प्रयोग करते हुए 2 गज की दूरी के नियमों का पालन अवश्य करे ताकि कोरोना महामारी पुनः जिले में प्रवेश न कर सके। इसके अतिरिक्त संक्रमण के कोई भी लक्षण दिखायी देने पर बिना विलम्ब किये नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जा कर निःशुल्क कोरोना की जांच करवाये। यह जांच जिले के जिला चिकित्सालय, समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में उपलब्ध है।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it