छत्तीसगढ़

दोषमुक्त होकर जेल से रिहा हुए शख्स, कलेक्टर ने सौंपा 1 लाख रूपए का चेक

Janta Se Rishta Admin
4 Jun 2022 1:07 AM GMT
दोषमुक्त होकर जेल से रिहा हुए शख्स, कलेक्टर ने सौंपा 1 लाख रूपए का चेक
x

मुंगेली। दोषमुक्त होकर जेल से रिहा हुए जिले के विकासखण्ड मुंगेली के ग्राम छाता निवासी श्री करण प्रसाद अब समाज की मुख्यधारा में जुड़कर जीवन यापन करेगा। कलेक्टर डाॅ. गौरव कुमार सिंह ने आज जिला कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में श्री करण प्रसाद को अंत्योदय स्वरोजगार योजना के अंतर्गत 01 लाख रूपए का चेक प्रदान कर समाज की मुख्यधारा में जुड़कर जीवन यापन करने की सलाह दी।

उल्लेखनीय है कि श्री करण प्रसाद ने विगत दिनों कलेक्टर जनदर्शन कार्यक्रम में कलेक्टर डाॅ. सिंह को आवेदन पत्र देकर बताया था कि वह राजमिस्त्री का काम करता है और उन्होंने जीवन यापन के लिए राज्य शासन की योजनाओं के तहत ऋण दिलाने की मांग की। कलेक्टर डाॅ. सिंह ने उनके आवेदन पत्र को गंभीरता से लिया और भारतीय स्टेट बैंक शाखा मुंगेली एवं जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति को ऋण राशि स्वीकृत करने के निर्देश दिए। निर्देश के परिपालन में भारतीय स्टेट बैंक शाखा मुंगेली द्वारा अंत्योदय स्वरोजगार योजना के तहत 01 लाख रूपए की ऋण राशि स्वीकृत की। इनमें से 10 हजार रूपए की अनुदान राशि शामिल है। श्री करण प्रसाद ने बताया कि वह झूठे हत्या के आरोप में 09 वर्ष तक जेल में थे। 09 वर्ष पश्चात दोषमुक्त होकर रिहा हुए। 09 वर्ष जेल में रहने के बाद घर आने पर घर में कुछ नहीं बचा था। उन्हें जीविकोपार्जन की समस्या आ रही थी। उनके द्वारा जीवन यापन के लिए 24 मई को कलेक्टर को आवेदन पत्र सौंपकर ऋण राशि की मांग की गई। कलेक्टर ने अपने सहृदयता का परिचय देते हुए अंत्योदय स्वरोजगार योजना के तहत मात्र 09 दिन में ही उन्हें 01 लाख रूपए का चेक प्रदान किया। इसके लिए उन्होंने कलेक्टर के प्रति आभार व्यक्त किया है। इस अवसर पर जिला अग्रणी बैंक के जिला प्रबंधक श्री प्रेमचंद मिश्रा, जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति के कार्यपालन अधिकारी श्री देवेन्द्र जांगड़े उपस्थित थे।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta