छत्तीसगढ़

रायपुर का बूढ़ातालाब गार्डन सुबह-शाम दोनों शिफ्ट में खुला रहेगा

Admin2
9 Nov 2020 5:32 AM GMT
रायपुर का बूढ़ातालाब गार्डन सुबह-शाम दोनों शिफ्ट में खुला रहेगा
x
इनडोर स्टेडियम में वाहनों की पार्किंग व्यवस्था

रायपुर (जसेरि)। ऐतिहासिक बूढ़ातालाब के सुंदरीकरण का कार्य रायपुर स्मार्ट सिटी द्वारा 12 करोड़ रुपये से किया गया है। इसको लेकर रविवार को महापौर एजाज ढेबर और कलेक्टर डा. एस. भारतीदासन ने बूढ़ातालाब के संचालन के संबंध में आला अधिकारियों की बैठक ली।

बैठक में निर्णय लिया कि बूढ़ातालाब परिसर को सुबह छह से 10 बजे तक और शाम पांच से 9:30 बजे तक खुला रखा जाए। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अश्रीक्षक अजय यादव, नगर निगम के कमिश्नर सौरभ कुमार, रायपुर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डा. गौरव कुमार सिंह, अतिरिक्त पुलिस अक्षीधक लखन पटले समेत नगर निगम और स्मार्ट सिटी के अधिकारी शामिल हुए।

सुबह और शाम बूढ़ातालाब भ्रमण के लिए आने वाले लोगों के वाहनों की पार्किंग व्यवस्था इनडोर स्टेडियम में की जाएगा। वहां से परिवहन के लिए नगर निगम द्वारा ई-रिक्शा की व्यवस्था रहेगी। कलेक्टर ने वोट एवं फ्लोटिंग-डेक क्षेत्र में सुरक्षा बढ़ाने के लिए निर्देशित किया। साथ ही शासकीय परिसंपत्तियों की सुरक्षा और आम लोगों की सुविधा के लिए सुरक्षा गार्ड की संख्या भी बढ़ाने के निर्देश दिए। इस मौके पर उन्होंने दीपावली के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण के संबंध में लोगों को जागरूक करने के साथ परंपरागत व्यवसाय से जुड़े कुम्हारों द्वारा निर्मित मिट्टी के दीये और अन्य सामग्री को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। भ्रमण के लिए पहुंचने वालों की सुरक्षा की दृष्टि से रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड को पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम का नेटवर्क तैयार करने को कहा गया। बूढ़ातालाब में भ्रमण के लिए काफी लोग आने लगे हैं। यहां काफी चहल-पहल रहती है।

20 से शुरू होगा भाठागांव अंतरराज्यीय बस स्टैंड

राजधानी रायपुर को नो बस जोन घोषित कर यात्री बसों का प्रवेश पूरी तरह से बंद कर दिया जाएगा। केवल सिटी बसें ही चल सकेंगी। बसों का प्रवेश प्रतिबंधित किए जाने से अलग-अलग रूट की एक हजार से अधिक बसें शहर में नहीं घुसेंगी। इससे सड़कों पर यातायात का दबाव कम होगा और जाम से लोगों को राहत मिलेगी। यही नहीं, पंडरी बस स्टैंड में यात्री बसों का प्रवेश भी प्रतिबंध कर दिया जाएगा। दरअसल शहर में यातायात के बढ़ते दबाव को देखते हुए 20 नवंबर से भाठागांव अंतरराज्यीय बस टर्मिनल को शुरू करने की तैयारी प्रशासन कर रहा है। इस टर्मिनल के शुरू होने से यहीं से बसे छूटेंगी और आएंगी। जानकारी के मुताबिक भाठागांव अंतरराज्यीय बस टर्मिनल से केवल छत्तीसगढ़ की सीमाओं में ही चलने वाली बसों का परिचालन नहीं होगा।

बल्कि दूसरे राज्यों से आने वाली बसें भी वहीं से संचालित होंगी। स्कूल और सिटी बसों के अलावा किसी भी बस को शहर के अंदर आने की अनुमति नहीं मिलेगी। सभी बसें अलग-अलग दिशाओं से आकर रिंग रोड से सीधे बस टर्मिनल में प्रवेश करेंगी। फिर वहीं से छूटकर रिंग रोड से सीधे शहर के बाहर निकल जाएंगी।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta