छत्तीसगढ़

महासमुंद-बागबाहरा का सबसे बड़ा क्रिकेट सटोरिया गलत और फर्जी नाम बताकर फंसा, पढ़े पूरी खबर

Janta Se Rishta Admin
10 Sep 2021 9:38 AM GMT
महासमुंद-बागबाहरा का सबसे बड़ा क्रिकेट सटोरिया गलत और फर्जी नाम बताकर फंसा, पढ़े पूरी खबर
x

महासमुंद-बागबाहरा का सबसे बड़ा क्रिकेट सटोरिया गलत और फर्जी नाम बताकर जुआ में गिरफ्तार हुआ था. अब मामला ये है, कि अदालत ने सभी जुआरियो को 151 के तहत जेल भेज दिया। अब जमानत के लिए फर्जी नाम का आधार कार्ड वोटर आईडी और राशन कार्ड बनाने की जुगत में परिजन परेशान हो रहे है. ज्ञात रहे कि क्रिकेट का सटोरिया पहले भी कई बार फर्जी नामों से छग के कई थानों में गिरफ्तार हो चूका है. क्रिकेट के सटोरियों को आला पुलिस अधिकारी एव जिले के छुटभैय्या नेता संरक्षण दे रहे है. जिसकी चर्चा पूरे प्रदेश में है....

रायपुर। राजधानी रायपुर पुलिस ने जुए के फड़ में दबिश देकर रंगे हाथों 12 जुआरी को गिरफ्तार किया था. उनके पास से 4 लाख 62 हजार बरामद हुआ था. यह जुआ कमलविहार स्थित सुने मकान में चल रहा था. स्थानीय पुलिस और सायबर सेल ने संयुक्त कार्रवाई की है. मामला मुझगहन थाना क्षेत्र का है.

इस मामले में एक अहम जानकारी सामने आई है. जिससे पुलिस की नींद उड़ गई है. गिरफ्तार जुआरियों में एक आरोपी असली नाम जयेश साहू (नकली नाम - देवेश साहू पिता सुखीराम साहू ) ऐसा भी है. जो पहले कई बार जुआ और सट्टा मामले में गिरफ्तार हो चूका है. अब की बार आरोपी को जेल भेजा गया है. पुलिस भी कार्रवाई ज्यो त्यों कर मामले में दबाने में लगे हुए है. आरोपी हमेशा गलत जानकारी देता रहा, पर पुलिस की ध्यान इस पर नहीं गई. जेल भेजे जाने पर आरोपी के परिजन भी परेशान है. वही इस मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामले में जांच जारी है. और आगे की कार्रवाई पुलिस कर रही है. आरोपी जयेश साहू मूलतः महासमुंद-बागबाहरा का निवासी है. जबकि उसने पुलिस को अपना नाम देवेश साहू पिता सुखराम साहू निवासी खमतराई बताया।

सूत्रों के मुताबिक आरोपी असली नाम जयेश साहू के संरक्षण में ही जुए का खेल चल रहा था. राजनीतिक पार्टी तक पहुंच रखता है. तथा छुटभैय्या नेता के संरक्षण में क्रिकेट सट्टे का सबसे बड़ा कारोबार करता है. दो पुलिस अधिकारी ने ये जानते हुए भी जयेश साहू छत्तीसगढ़ का क्रिकेट का सबसे बड़ा सटोरिया है. फिर भी उसको बचाते हुए फर्जी नाम बताने पर भी जुआ एक्ट के अंतर्गत कार्रवाई कर कोर्ट में पेश किया था. पुलिस इससे पहले भी आरोपी को जुआ खेलते गिरफ्तार कर चुकी है. पुलिस ने जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, उनमें जितेंद्र कुमार कृपलानी, नानक तलरेजा, भुवन महानंद, गजेंद्र साहू, विनय जैन, संतोष सुक्ला, जीवराखन साहू, इंद्रकुमार, आकाश उपाध्याय, देवेश साहू पिता सुखीराम साहू (असली नाम - जयेश साहू निवासी- महासमुंद-बागबाहरा ), मोनू तिवारी, रोहित यादव शामिल है. पुलिस ने सभी के खिलाफ जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की है. अब ये देखना है, कि रायपुर कोर्ट में आरोपी सटोरियों को किस धारा में फिर से अपराध दर्ज करने की कार्रवाई करती है. ज्ञात रहे कि जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियो ने मामला संज्ञान में आते ही जनता से रिश्ता को बताया कि एक और जमानतीय धारा पंजीकृत किया जाएगा।

Tagsरायपुर राजधानी रायपुर पुलिस जुए 12 जुआरी कमलविहार Raipur Capital Raipur Police Gambling 12 Gamblers Kamalvihar महासमुंद-बागबहरा का सबसे बड़ा क्रिकेट सटोरिया गलत और फर्जी नाम बताकर फंसा जयेश साहू देवेश साहू पिता सुखराम साहू जयेश साहू सटोरिया जयेश साहू न्यूज़ जयेश साहू महासमुंद जयेश साहू बिग न्यूज़ जयेश साहू को जेल जयेश साहू गिरफ्तार जयेश साहू रायपुर में गिरफ्तार Jayesh Sahu Devesh Sahu Father Sukhram Sahu Jayesh Sahu Booker Jayesh Sahu News Jayesh Sahu Mahasamund Jayesh Sahu Big News Jayesh Sahu jailed Jayesh Sahu arrested Jayesh Sahu arrested in Raipur महासमुंद एसपी रायपुर एसपी महासमुंद पुलिस अधीक्षक महासमुंद न्यूज़ महासमुंद लेटेस्ट न्यूज़ महासमुंद में सट्टा महासमुंद में सट्टे का कारोबार महासमुंद पुलिस रायपुर पुलिस रायपुर में सट्टा रायपुर में सट्टे का कारोबार Mahasamund SP Raipur SP Mahasamund Superintendent of Police Mahasamund news Mahasamund latest news betting in Mahasamund betting business in Mahasamund Mahasamund Police Raipur Police betting in Raipur betting business in Raipur 
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta