छत्तीसगढ़

पुराने प्लान से ही बनेगा स्काईवॉक लंबे-चौड़े मंथन के बाद फैसला

Janta Se Rishta Admin
7 Oct 2020 6:25 AM GMT
पुराने प्लान से ही बनेगा स्काईवॉक लंबे-चौड़े मंथन के बाद फैसला
x
प्रदेश में सरकार बदलने के तुरंत बाद यानी पौने 2 साल पहले रुका स्काईवॉक का अधूरा काम जल्दी शुरू होगा और डिजाइन भी लगभग वही रहेगा, जिस पर निर्माण रुकने से पहले काम चल रहा था

रायपुर (जसेरि)। प्रदेश में सरकार बदलने के तुरंत बाद यानी पौने 2 साल पहले रुका स्काईवॉक का अधूरा काम जल्दी शुरू होगा और डिजाइन भी लगभग वही रहेगा, जिस पर निर्माण रुकने से पहले काम चल रहा था। पुराने प्लान में शास्त्री चौक पर रोटेटरी प्रस्तावित थी और लंबे-चौड़े मंथन के बाद पीडब्ल्यूडी महकमे ने नए सिरे से जो प्रस्ताव बनाया है, उसमें भी मौजूदा ढांचे के साथ रोटेटरी शामिल है।

पीडब्ल्यूडी के इंजीनियरों ने यह प्रस्ताव बनाकर सामान्य सुझाव समिति को सौंप दिया है। वरिष्ठ कांग्रेसी विधायक सत्यनारायण शर्मा की अध्यक्षता वाली समिति इस पर विचार के बाद मुहर लगाएगी, जिसमें शहर के सभी विधायक हैं। इंजीनियरों ने प्लान में स्पष्ट कर दिया है कि रोटेटरी नहीं बनने से स्काईवॉक की मजबूती बुरी तरह प्रभावित होगी,. इसलिए इसे छोड़ नहीं सकते। इस तरह, जिस मूल प्लान पर स्काईवॉक का निर्माण शुरू हुआ और भाजपा सरकार के जाने से पहले तक चला, मौटे तौर पर स्काईवॉक उसी प्लान के साथ पूरा किया जाएगा। इसमें बदलाव भी छोटे-मोटे ही होंगे, जैसे यह संभव है कि इससे शहीद स्मारक की पार्किंग और मल्टीलेवल पार्किंग तक जाने वाला एस्केलेटर कैंसिल हो जाए। सत्रों के मुताबिक इंजीनियरों ने रोटेटरी के बगैर भी स्काईवॉक को पूरा करने का दूसरा प्रस्ताव बनाया था, लेकिन मजबूती को.ध्यान में रखकर इसे खारिज कर दिया गया।

डिजाइन और प्रस्ताव सामान्य सुझाव समिति को सौंप दिए हैं। मुहर लगने के बाद काम जल्दी शुरू होने की उम्मीद है।

- विजय कुमार भतपहरी, ईएनसी-पीडब्ल्यूडी

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta