छत्तीसगढ़

रायपुर : पुलिस-अपराधियों में रेस-टीप फिर भी रुक नहीं रहे वारदात...दो पाटन के बीच पिस रही बेकसूर जनता

Janta Se Rishta Admin
3 Nov 2020 4:58 AM GMT
रायपुर : पुलिस-अपराधियों में रेस-टीप फिर भी रुक नहीं रहे वारदात...दो पाटन के बीच पिस रही बेकसूर जनता
x

demo

राजधानी में आए दिन चाकू चल रहे है हर छोटी सी बात में लोग एक-दूसरे पर चाकू से वार कर दे रहे है

जसेरि रिपोर्टर

रायपुर। राजधानी में आए दिन चाकू चल रहे है हर छोटी सी बात में लोग एक-दूसरे पर चाकू से वार कर दे रहे है। नशे के लती बेखौफ होकर नशे का सेवन कर रहे है और अपराध को अंजाम दे रहे है। आये दिन रायपुर में लूट, सट्टा, चाकूबाजी और वसूली जैसी वारदातें होती है इन सबकी एक ही कड़ी है वो है नशा। नशे में ड्रग्स, चरस, गांजा, अफीम, कोकीन लेते है। मगर नशे की आड़ में लोग चाकूबाजी जैसी वरदारतों को भी अंजाम देते है।

पुलिस भी अपनी सक्रियता दिखाते हुए आरोपियों को गिरफ्तार तो कर लेती है मगर जमानती धाराओं के चलते पुलिस को ऐसे आरोपियों को मुचलका देकर छोडऩ़ा पड़ जाता है। और वही आरोपी नशे के गोरख धंधे में फिर लग जाते है। रायपुर शहर पहले से ही नशे में डूबा हुआ है, फिर चाहे वो नशा ड्रग्स का हो फिर चाहे वो नशा गांजा हो, या नशा ब्रॉउन शुगर का हो। अब शहर का हर मार्ग और गली मोहल्ले, नुक्कड़ के ठीहे नशेडिय़़ों की जद में फंसा है। जिससे आम नागरिकों का घर से बाहर निकलना और रास्ते पर चलना मुश्किल हो गया है। नशा आज युवाओं के सिर चढ़कर बोल रहा है और नशे के सौदागर युवाओं के आस-पास ही भटक रहे है। युवाओं के लिए नशा जानलेवा तो है ही और भी उसके हानिकारक दुष्परिणाम भी राजधानी में देखने को मिल रहे है। लगातार चाकूबाजी, छिनताई, उठाईगिरी, छेड़छाड़, मारपीट, लूटपाट की घटनाए बढ़ गई है। राजधानी के धनी परिवारों के युवाओं की पूरी जि़ंदगी नशे की गहरी खाई डूब गई है जहां से निकल पाना असंभव नजर आ रहा है। शहर में नशे का व्यापार करने वालों के हौसले इतने बुलंद हो गए है कि उन्हें पुलिस का डर नहीं है।

नशे से बढ़ी वारदात

प्रदेश में चाकूबाजी, छिनताई के साथ घरेलू हिंसा के केस लगातार बढ़ रहे हैं। राजधानी में पहले एक युवक ने अपने तीन बच्चों को चाकू मारकर उनकी जान लेने की कोशिश की। बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने जब पिता को पकड़ा तो पता चला उसने नशे की गोलियां खाईं थी। नशे में उसने अपने ही बच्चों को मारने की कोशिश की। रायपुर में झांकी के दौरान एक ही रात में हत्या की 3 वारदातें हुईं। तीनों हत्या गोली के नशे में हुई। राज्यभर में ऐसी वारदातें हो ही रही हैं।

पुराने झगड़े का बदला लेने किया चाकू से हमला : टिकरापारा थाना इलाके में दो दिन पहले मनीष नाम के एक युवक पर जानलेवा हमला हुआ था। बदमाशों ने बेसबॉल के बैट और चाकू से मनीष पर कई वार किए थे। फिलहाल युवक का इलाज जारी है। इस मामले में पुलिस ने 3 युवकों और इनके 2 नाबालिग साथियों को पकड़ा है। पूछे जाने पर इन्होंने बताया कि मनीष से कुछ वक्त पहले झगड़ा हुआ था।

आए दिन हो रही चाकूबाजी की वारदातें

शहर में चाकूबाजी की हर दिन नए-नए वारदातें सामने आ रहे है जिसकी वजह से आम लोगों में डर का भाव बना हुआ है। शहर में चाकूबाज बेखौफ होकर घूम रहे है चाकूबाजी की घटनाएं थम ही नहीं रही है, हर मामूली बात पर ही बदमाश चाकू मार रहे हैं। इन बदमाशों को चाकू मारने की हिम्मत नशे से मिलती है। चाकूबाजी के 99 फीसदी मामलों में आरोपी भी नशेड़ी ही होते हैं और नशे में धुत होकर चाकू मारते हैं। चाकूबाजी की घटनाएं लगातार बढ़ रही है। इसकी बड़ी वजह आदतन नशेडिय़ों और बदमाशों के खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं होना है। रोज कहीं-न-कहीं बदमाश चाकू की नोक पर लूट और मारपीट कर रहे हैं। चाकूबाजों के आतंक से आम लोग दहशत में हैं। राह चलते लोगों को चाकू मारकर घायल करके पैसा, मोबाइल लूटने की घटनाएं जहां लगातार हो रही हैं, वहीं पुरानी रंजिश का बदला लेने चाकू, तलवार का खुलकर इस्तेमाल किया जा रहा है। बदमाशों में पुलिस का खौफ दिखाई नहीं दे रहा। अपराध पर लगाम नहीं लग पा रही है। यहां आए दिन चाकूबाजी की घटनाएं हो रही हैं। राजधानी में अपराधियों के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि अपने साथ हथियार लेकर घूम रहे है। राजधानी में आये दिन मारपीट जैसी वारदातें होती जा रही है। जिससे आम जनता भी बहुत परेशान हो रही है। पुलिस को वारदात का तरीका पता होता है तो आसानी से अपराधियों तक पहुंचा जा सकता है।

अपराधियों पर नकेल कसने पुलिस ने कमर कसी

रायपुर में आए दिन चाकूबाजी, बलवा, मारपीट, और गाली-गलौज के मामले सामने आते रहते है। इस तरह के अपराध अपराधियों के लिए जैसे आम हो गए है। जिससे पुलिस भी एक हद तक परेशान हो ही रही है। मारपीट की वारदात में भी दो लोगों में कोई वाजिब मुद्दा नहीं होता फिर भी मारपीट होती है। और आपसी व पुरानी रंजिश के चलते भी युवक चाकू से हमला कर देते है। अपराधियों के ऐसे बर्ताव को देखते हुए पुलिस ने अब अपनी कमर कस ली है और आरोपियों के खिलाफ एक मुहिम चलाकर अपराध कम करने में जुटी हुई है।

चाकू दिखाकर डरा रहा था लोगों को : सरस्वती नगर थाना इलाके में पुलिस ने सूरज चावड़ा नाम के युवक को पकड़ा। फिल्मों नजर आने वाले खंजर नुमा चाकू लेकर यह कुछ लोगों को डरा रहा था। इसकी सूचना पुलिस को मिली। थाने से फौरन टीम रवाना की गई और 22 साल के इस युवक को पकड़ लिया गया। युवक के पास से चाकू भी बरामद किया गया।

लगातार पुलिस हिस्ट्रीशीटरों पर कार्रवाई कर रही है और जिनके पास से हथियार मिल रहे है उन सबको जब्त कर न्यायालय पेश किया जा रहा है। पिछले साल की तुलना में इस साल कार्रवाई के बाद चाकूबाजी थोड़ी कम हुई है।

- लखन पटले, एएसपी रायपुर

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta