छत्तीसगढ़

रायपुर : ढाबों में परोसा जा रहा है डोडा अफीम, ट्रकों से हो रहा कोरियर...महिलाओं के माध्यम से नशेडिय़ों तक सप्लाई

Janta Se Rishta Admin
28 Oct 2020 5:57 AM GMT
रायपुर : ढाबों में परोसा जा रहा है डोडा अफीम, ट्रकों से हो रहा कोरियर...महिलाओं के माध्यम से नशेडिय़ों तक सप्लाई
x
राजधानी में नशे के कारोबार पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। राजधानी नशे की गिरफ्त में है।

जसेरि रिपोर्टर

रायपुर राजधानी में नशे के कारोबार पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। राजधानी नशे की गिरफ्त में है। ड्रग्स मामला अभी सुलझा नहीं था कि मंगलवार को पुलिस ने एक बड़ा खुलासा किया है। राजधानी में पश्चिम बंगाल से अफीम और डोडा लाकर खपाने का काम पिछले दो साल से किया जा रहा था। गिरोह का मास्टर माइंड ढाबा संचालक है, जो ट्रक के माध्यम से अफीम और डोडा मंगाकर महिला कर्मचारियों की मदद से नशे?ियों की मांग पूरी करता था। राजधानी पुलिस ने इस मामले में दो महिलाओं और शेरे पंजाब ढाबा के संचालक सुंदर सिंह संधु को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्रवाई की है। गिरोह में शामिल अन्य सदस्यों की तलाश में पुलिस जुट गई है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार यादव ने बताया कि काशीराम नगर तेलीबांधा निवासी शोभा सावलानी (40) पति प्रकाश सावलानी और सेजबहार मुजगहन निवासी किरण चंदानी (36) पति सुरेश चंदानी शहर में घूम-घूमकर अफीम और डोडा की सप्लाई करती थीं। महिलाएं पिछले दो साल से इस काम को अंजाम दे रही थीं। पुलिस की टीम लगातार गुंडा-बदमाशों पर कार्रवाई कर रही है। कार्रवाई के दौरान साइबर सेल की टीम को एक नशेड़ी ने बताया कि शहर में महिलाओं का गिरोह सक्रिय है, जो अफीम और डोडा सप्लाई करता है। पुलिस ने नशे?ी को प्वांइटर बनाया और महिला तस्करों से संपर्क करके अफीम और डोडा की मांग की। महिला तस्कर एक्टिवा में सवार होकर न्यू राजेन्द्र नगर स्थित मेडिशाइन अस्पताल के पास अफीम और डोडा देने के लिए पहुंची थीं। पुलिस टीम ने दोनों महिलाओं को अफीम के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।

मास्टर माइंड का खुलासा

गिरफ्तार महिला आरोपितों से पूछताछ के दौरान गिरोह के मास्टर माइंड सुंदर सिंह के बारे में जानकारी मिली। पूछताछ में शोभा सावलानी ने बताया कि उसे श्याम नगर तेलीबांधा निवासी सुंदर सिंह संधु नामक व्यक्ति अफीमऔर डोडा चूरा लाकर देता है। शोभा और उसकी साथी किरण चंदानी मांग के आधार पर ग्राहकों को इसकी सप्लाई करती हैं। इस पर साइबर सेल, थाना न्यू राजेंद्र नगर एवं थाना तेलीबांधा की टीम के सदस्यों द्वारा श्याम नगर तेलीबांधा में सुंदर सिंह संधु की पतासाजी कर सुंदर सिंह को तेलीबांधा स्थित निवास से पुलिस ने गिरफ्तार किया। आरोपितों से उनके ग्राहकों की कुंडली भी पुलिस अधिकारी जुटा रहे हैं। आरोपित के पास से लगभग 12 किलोग्राम अफीम, 44 किलोग्राम डोडा चूरा बरामद किया है।

नशेडिय़ों को करता था सप्लाई : पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित टाटीबंध में शेरे पंजाब नामक ढाबा संचालक है। आरोपित पिछले दो साल से पश्चिम बंगाल से अफीम और डोडा की तस्करी कर रहा था। आरोपित मास्टर माइंड ने शातिर तरीके से महिलाओं को अपने ग्रुप में जोड़ा था, ताकि उसके इस काले कारनामे पर किसी को शक न हो और आराम से वह पैसा कमा सके। दोनों महिलाएं राजेंद्र नगर और तेलीबांधा इलाके में झाडू-पोंछा का काम करती थीं, जिससे उनकी गतिविधि पर किसी को शक न हो।

ढाबे में नशे की पार्टियां

पुलिस की पड़ताल में पता चला है कि संधु के ढाबे में भी नशे की पार्टी आयोजित की जाती रही हैं। वहां चोरी छिपे शराब पिलाने के साथ अफीम-डोडा और गांजा भी उपलब्ध कराया जाता था। ढाबे में ज्यादातर ट्रांसपोर्ट से जुड़े लोग या बड़ी गाडिय़ां चलाने वाले आते हैं। पता चला है कि घरों से बाहर रहकर पढऩे वाले भी कई छात्र-छात्राएं अक्सर ढाबे में नशा करने पहुंचते थे। युवतियों में नशे का ट्रेंड देखकर ही उसने अफीम बेचने के लिए महिलाओं को शामिल किया था।

होटल के बाद ढाबों को पुलिस का नोटिस : पुलिस ने कुछ दिन पहले शहर के सभी होटल-रेस्टोरेंट को नोटिस जारी किया था। अब पुलिस शहर के ढाबों को नोटिस जारी करने की तैयारी है। उन्हें चेतावनी दी जाएगी कि नशे के धंधे का पता चलने पर ढाबों को बंद कर दिया जाएगा। ढाबे के भीतर या पार्किंग में शराब न पिलाने पर सख्ती से पाबंदी लगायी गई है। ऐसा करते पकड़े जाने पर सीधे ढाबे के मालिकों पर कार्रवाई की जाएगी।

गोलीकांड, लाकडाउन में पार्टी और ड्रग्स का मुद्दा सदन में गूंजा

क्वींस क्लब में गोलीकांड, लाकडाउन में पार्टी और ड्रग्स के कारोबार का मुद्दा सदन में भी खूब गूंजा। महीनों बाद भी इस मामले में शीर्ष लोगों पर कार्रवाई नहीं होने पर सदन में जकांछ के लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह ने सरकार को घेरा। आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि क्वींस क्लब के मुद्दे पर विधि के अनुरूप कार्रवाई होगी। विभाग की तरफ से इस मामले में नोटिस जारी किया गया था, जिसका जवाब मिल चुका है।धर्मजीत सिंह ने कहा कि क्वींस क्लब में नशे का कारोबार चलता है। दारू, चरस, गांजा, अफीम जैसे समानों की यहां बिक्री होती है। कुछ दिन पहले यहां एक एनआरआइ ने गोली भी चला दी थी। ये सब विधायक कालोनी के ठीक बगल में हो रहा है। इससे हम सबकी सुरक्षा को भी खतरा है। इस क्लब के तार गोवा, मुंबई और नाईजीरिया जैसी जगहों से जुड़ा हुआ है। सरकार को इस मामले में तत्परता से कार्रवाई करनी चाहिये। क्वींस क्लब का अधिग्रहण किया जाना चाहिए। धर्मजीत सिंह ने क्वींस क्लब में बार का लाइसेंस रद कर गेस्ट हाउस बनाने की मांग की। उन्होंने कहा कि क्वींस क्लब के बार के लाइसेंस को तत्काल रद किया जाना चाहिये और सरकार को इसे अधिग्रहित करना चाहिये। क्वींस क्लब को सीएम गेस्ट हाउस या स्पीकर गेस्ट हाउस या फिर कॉफी हाउस बना देना चाहिये, ताकि वहां चल रही अवैध गतिविधि तत्काल बंद की जा सके।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta