छत्तीसगढ़

पोस्टिंग बलौदाबाजार में, धमतरी में दे रहे ड्यूटी

Janta Se Rishta Admin
27 Jun 2022 5:39 AM GMT
पोस्टिंग बलौदाबाजार में, धमतरी में दे रहे ड्यूटी
x
  1. लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में सहायक अभियंता की मनमानी, उच्चाधिकारी का संरक्षण
  2. पोस्टिंग बलौदाबाजार में, धमतरी में दे रहे ड्यूटी
  3. दूसरे जिले में हाजिरी देकर उठा रहे पूरा वेतन, विभाग बेखबर
  4. भ्रष्टाचार में लिप्त सहायक अभियंता की कारगुजारियों पर बड़े अधिकारियों की मौन स्वीकृति
  5. बलौदाबाजार के विभागीय बड़े अधिकारी सहायक अभियंता को उसके कार्यकाल में धमतरी हुए भ्रष्टाचार को लीपापोती करने के लिए मौका दे रहे है या उन भ्रष्टाचारों में वो भी संलिप्त है.

रायपुर (जसेरि)। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी अपने विभागीय अधिकारियों की कारगुजारियों और कार्यप्रणाली से हमेशा सुर्खियों में रहा है। कांग्रेस सरकार के साढ़े तीन साल पूरे होने के बाद भी अधिकारियों का रवैया भाजपा सरकार की तरह मनमानी वाला चल रहा है। जिसका बड़े अधिकारी जानबूझ कर अनदेखी कर रहे है या उसके भ्रष्टाचार संरक्षण देकर बढ़ावा दे रहे है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग सीधे लोगों के जुड़े हने के बाद भी सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार की शिकायत इसी विभाग की है। हाल ही में मुख्यमंत्री भेंट-मुलाकात दौरे में लोक स्वास्थ यांत्रिकी विभाग की कार्यप्रणाली पर नाराजगी जताते हुए लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अभियंता को निलंबित किया था।

ताजा मामले में शिकायतकर्ता महादेव मारकंडेय गोल बाजार बलौदाबाजार ने सीएम बूपेश बघेल से शिकायत की है उसकी एक प्रति पोस्ट से जनता से रिश्ता को भेजा है। जिसमें शिकायत कर्ता ने लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की अंधेरगर्दी पर तुरंत कार्रवाी की मांग सीएम से की है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में विद्युत यांत्रिकी विभाग उपखंड बलौदाबाजार के सहायक अभियंता का जिला मुक्यालय एवं कार्यालय में उपस्थित नहीं होकर दूसरे जिले धमतरी कार्यालय में उपस्थिति दर्ज करा कर लगातार हर महीने की तनख्वाह उठा रहे है।

यह है पूरा मामला

उक्त सहायक अभियंता के खिलाफ लगातार भ्रष्टाचार के शिकायत मिलने पर विभाग ने कुछ माह पहले धमतरी से स्थानांतरण बलौदाबाजार कर दिया था। सबसे अजीब बात यह है कि सहायक अभियंता ने नवंबर 2021 को पदभार ग्रहण करने के बाद से महीने में एक या दो दिन बलौदाबाजार कार्यालय में उपस्थिति दर्ज कराता है। बाकी 28 दिन कलेक्टर और विभागीय अनुमति के बिना अपनी दबंगई दिखाते हुए अपने पुराने कार्यस्थल जिला धमतरी में उपस्थित रहता है। वहां उसका निवास निज निवास भी है। उक्त सहायक अभियंता ने बलौदाबाजार में एक किराए का मकान लेकर रखा रखा है जिसमें बमुश्किल महीने में दो दिन रहता है। धमतरी और बलौदाबाजार में चर्चा है कि बलौदाबाजार के विभागीय बड़े अधिकारी सहायक अभियंता को उसके कार्यकाल में धमतरी हुए भ्रष्टाचार को लीपापोती करने के लिए मौका दे रहे है या उन भ्रष्टाचारों में वो भी संलिप्त है जिसके कारण बलौदाबाजार ज्वाइनिंग देने के बाद भी धमतरी कार्यालय में उपस्थिति दर्ज करा रहे है। क्योंकि सहायक अभियंता बलौदाबाजार से पूर्व धमतरी में सब इंजीनियर था। आज भी बिना किसी पदभार या संलग्नता के जिलाधीश धमतरी के अनुमति के बिना प्रतिदिन धमतरी कार्यालय में उपस्थित दर्ज करा रहा है। सहायक अभियंता अपने रसूख का दुरूपयोग करते हुए दूसरे जिदले के काम में हस्तक्षेप कर रहा है। झमतरी के लोकस्वास्थ्य विभाग के एक केबिन को अपना व्यक्तिगत केबिन बना रखा है।

सूत्रों से पता चला है कि जब उक्त सहायक अभियंता धमतरी में सब वो इंजीनियर था, तब बहुत बड़े बड़े मामले में संलिप्त रहा है। भ्रष्टाचार के मामले में सबसे ज्यादा शिकायत को लेकर विभाग ने जो एक्शन लिया वह नाकाफी साबित हो रहा है। क्योंकि वह अपने कार्यालय में जाता ही नहीं है। अपने कार्यकाल में संभाग के बाहर के दोनों घरों में पांच नौकरों का वेतन सरकारी कार्यालय से आहरित करता था। बलौदाबाजर लोक स्वास्थय यांत्रिकी विभाग से दैनिक वतने भोगी के रूप में निकाला जाता था, व अन्य दैनिक वेतनभोगियों से वेतन का कुछ हिस्सा लिया जाजा था। शिकायतकर्ता ने बकाया कि इसकी जानकारी सूचना के अधिकार के तहत निकाली गई है। शिकायत कर्ता ने अधिकारियों से मांग की है कि पूरे मामले की सघन जांच की जाए जिससे पूरे समाज को बदनाम करने वाले लोगों को बाहर का रास्ता दिखा सके।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta