छत्तीसगढ़

सेना भर्ती के लिए भौतिक परीक्षण 1 जून को

Janta Se Rishta Admin
31 May 2022 1:42 AM GMT
सेना भर्ती के लिए भौतिक परीक्षण 1 जून को
x

मुंगेली। सेना एवं अन्य बलो में भर्ती पूर्व शारीरिक दक्षता एवं लिखित परीक्षा प्रशिक्षण हेतु आज तक आवेदन मंगाए गए हैं।

जिला रोजगार अधिकारी ने बताया कि उक्त प्रशिक्षण के लिए आवेदित अभ्यर्थियों का 01 जून 2022 को सुबह 04.30 बजे डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्टेडियम, नवागढ़ रोड़ मुंगेली में भौतिक परीक्षण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि जो अभ्यर्थी शारीरिक मापदण्ड में उपयुक्त पाये जायेगें उनको ही शारीरिक दक्षता एवं लिखित परीक्षा प्रशिक्षण में शामिल किया जायेगा।

कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान बेमेतरा में हाईटेक प्लग टाइप नर्सरी, बायो एजेंट उत्पादन इकाई एवं मल्टीमीडिया कक्ष का लोकार्पण

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर के कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल का कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र, ढोलिया, बेमेतरा में भ्रमण कार्यक्रम था। बीते दिनों इस भ्रमण कार्यक्रम के दौरान उन्होंने राष्ट्रीय बागवानी मिशन के तहत, एकीकृत बागवानी विकास मिशन (एम.आई.डी.एच.) योजनांतर्गत नवनिर्मित हाईटेक प्लग टाईप नर्सरी का लोकार्पण किया। साथ ही उन्होनें महाविद्यालय के बायो एजेंट उत्पादन इकाई, मल्टीमीडिया कक्ष एवं प्रक्षेत्र के मातृ-फलोद्यान (उन्नयन एवं आधुनिकीकरण) का भी लोकार्पण किया। भ्रमण कार्यक्रम में निदेशक, प्रक्षेत्र एवं विस्तार सेवायें डॉ. पी. के. चन्द्राकर तथा संचालक, अनुसंधान सेवायें डॉ. विवेक त्रिपाठी भी सम्मिलित रहे। सभी पदाधिकारियों ने प्रक्षेत्र, महाविद्यालय एवं बालिका छात्रावास का भ्रमण किया तथा महाविद्यालय में चल रही शैक्षणिक एवं अनुसंधान गतिविधियों की जानकारी ली। कुलपति ने महाविद्यालय द्वारा बेमेतरा जिले के विकास के लिए किये जा रहे कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि प्लग नर्सरी से कृषकों को उच्च गुणवत्ता युक्त एवं उकठा रोधी ग्राफ्टेड टमाटर, बैंगन तथा मिर्च के पौधे उपलब्ध होंगे। डॉ. विवेक त्रिपाठी संचालक, अनुसंधान सेवायें ने कहा कि बायो एजेंट उत्पादन इकाई से कृषकों को सस्ते दरों पर असरदार जैव कारक एवं जैव उर्वरक प्राप्त होंगे। डॉ. पी. के. चन्द्राकर निदेशक, प्रक्षेत्र ने बताया कि मातृ-फलोद्यान से जिले के किसानों को उच्चगुणवत्ता युक्त आम, अमरूद, बेर, डेªगन फ्रूट, अनार, नींबू, मुनगा इत्यादि फलों के पौधें उपलब्ध होगें तथा उन्हें इनके लिए जिले से बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। महाविद्यालय के अधिष्ठाता, डॉ. के. पी. वर्मा ने बताया कि मल्टीमीडिया कक्ष विद्यार्थियों के पठन-पाठन में बहुत ही सहायक सिद्ध होगा। इस अवसर पर अधिष्ठाता सहित महाविद्यालय के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta