छत्तीसगढ़

रमन सरकार में भाजपा ने जनता को खच्चर का पूंछ दिखाकर घोड़ा बताया : धनंजय सिंह ठाकुर

jantaserishta.com
9 Nov 2020 1:47 PM GMT
रमन सरकार में भाजपा ने जनता को खच्चर का पूंछ दिखाकर घोड़ा बताया : धनंजय सिंह ठाकुर
x
रमन सरकार में भाजपा ने जनता को खच्चर का पूंछ दिखाकर घोड़ा बताया

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। रायपुर। पूर्व मंत्री भाजपा प्रवक्ता अजय चंद्राकर के बयान पर कांग्रेस ने तंज कसा। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि रमन सरकार के दौरान भाजपा के नेता तो जनता को खच्चर का पूंछ दिखाकर घोड़ा बताते रहे। विकास का झूठी गुणगान करते रहे, ढिंढोरा पीटते रहे, सत्ता जाते ही पोल खुल गई। रमन भाजपा ने विकास कार्यो के नाम से सरकारी खजाने को गम्भीर चोट पहुँचाया, 41 हजार करोड़ का कर्जा छत्तीसगढ़ के खजाने पर चढ़ा गये। भाजपा नेता कमीशनखोरी के खच्चर तक ही सीमित रहे, विकास के असली घोड़ा के बारे में सोचे नही घोड़ा के बारे में सोचते तो विधानसभा चुनाव में मुँह की खानी नही पड़ती, जनता 15 सीटों पर नहीं समेटती। 15 साल में छत्तीसगढ़ का बजट 85 हजार करोड़ तक पहुंच गया लेकिन छत्तीसगढ़ के किसानों, नौजवानों, महिलाओं का विकास नहीं हो पाया। उस दौरान विकास किसी का हुआ तो वो कमीशनखोर भ्रष्ट भाजपा नेताओं और उनके परिवार का हुआ।

खटारा मोटर सायकल में चलने वाले लोग महंगी लक्जरी कारो में घूमने लगे। फसल की सही दाम नही मिलने, फसल खराब होने सरकारी मदद नही मिलने से कर्ज से दबा किसान हताश परेशान होकर आत्महत्या करने मजबूर थे और भाजपा सरकारी पैसे से तिहार मनाती रही। तिहार में भाजपा के केंद्रीय नेता के ऊपर फूल बरसवाते रहे। रमन शासन काल में विकास नामक गुणवत्ताहीन भ्रष्टाचार से लदा खच्चर दौड़ता रहा और भाजपा के नेता खच्चर के पुंछ यानी कमीशनखोरी तक सीमित रहे। विकास कार्यो के नाम से रेत सीमेंट की गारे से बनी बड़ी-बड़ी असुविधा से भरी बिल्डिंग ही बनी लेकिन छत्तीसगढ़ में व्यक्ति विकास बाधित रहा उस पर ध्यान नही दिया गया।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के 20 महीनों के जन कल्याणकारी फैसलों से छत्तीसगढ़ के आमजनता खुशहाल और संतुष्ट है। किसानों के कर्ज माफ, बिजली बिल हाफ, सिंचाई कर माफ, धान की कीमत 2500 रू. प्रति क्विंटल, तेंदूपत्ता का मानक दर 2500 से बढ़ाकर 4000 रू. प्रति बोरा, 31 वनोपज की समर्थन मूल्य में खरीदी, चरण पादुका खरीदने नगद राशि, 14580 शिक्षकों की भर्ती, शिक्षाकर्मियों का संविलियन, नरुवा, गरुवा, घुरुवा, बारी के माध्यम से जल स्रोतों का संरक्षण, हर्बल खेती को बढ़ावा राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से धान की अंतर का राशि एवं मक्का, गन्ना उत्पादक किसानों को लाभ, गोधन न्याय योजना के माध्यम से पशुपालक को आर्थिक लाभ एवं पशुधन की संरक्षण, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, 65 लाख राशनकार्ड के माध्यम से सभी को राशन वितरण, सहित अनेक जनकल्याणकारी कार्यो से छत्तीसगढ़ के किसानों नौजवानों और महिलाओं खुशहाल हो रहे है।ऐसे में भाजपा नेताओं को अगर घोड़ा नहीं मात्र पूंछ ही दिख रही है तो ये भाजपा नेताओं के 15 साल पुरानी पूंछ देखने की आदत का परिणाम है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta