छत्तीसगढ़

कोंडागांव में गैंगरेप: पीड़िता के परिजनों ने टीआई पर लगाया रिश्वत लेने का आरोप

Admin2
14 Oct 2020 5:26 AM GMT
कोंडागांव में गैंगरेप: पीड़िता के परिजनों ने टीआई पर लगाया रिश्वत लेने का आरोप
x
मामले को लेकर एसपी ने दिया ये बयान

कोंडागांव। छत्तीसगढ़ के कोंडागांव गैंग रेप मामले में आरोपियों के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाए हैं. उनका कहना है कि टीआई ने उनसे आरोपियों को बचाने के नाम पर 19 हजार रुपये लिए थे और मोटरसाइकिल भी जब्त कर ली थी. इसके बावजूद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों के परिजन अब पुलिस के आलाधिकारियों से मदद की गुहार लगा रहे हैं.वहीं इस पूरे मामले में SP रामकृष्ण साहू ने पुलिस महकमे पर लग रहे आरोपो की जांच करने के बाद कार्रवाई की बात कही है. SP ने बताया कि इस मामले की जांच के लिए टीम गठित कर दी गई है.

बता दें कि बलरामपुर जिले में एक के बाद एक सामने आ रहे दुष्कर्म के मामलों ने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है. इसी बीच सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों के परिजनों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं. कोंडागांव जिले में गैंगरेप की शिकार हुई 17 वर्षीय पीड़िता ने आत्महत्या कर ली थी. जिसके बाद परिजन मामले में कार्रवाई की मांग कर रहे थे. लेकिन पुलिस की तरफ से आरोपियों पर तत्काल कार्रवाई नहीं की गई. जिससे तंग आकर पीड़िता के पिता ने कीटनाशक खाकर खुद को मारने की कोशिश की. गनीमत रही की उसे वक्त रहते बचा लिया गया.

कोंडागांव जिले के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 19 जुलाई को बालिका अपने परिजनों के साथ एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए गई थी. इस दौरान रात 11 बजे के करीब गांव के दो लड़के उसे जंगल में ले गए और वहां पांच अन्य लोगों ने उसके साथ गैंग रेप को अंजाम दिया. अगले ही दिन पीड़िता बिना किसा को बताए अपने घर लौट आई थी और फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.



Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta