छत्तीसगढ़

शिकायत लेकर पहुंचा था दिव्यांग, जानकारी लेने कुर्सी छोड़कर निकले आईजी साहब

Janta Se Rishta Admin
24 May 2022 7:28 AM GMT
शिकायत लेकर पहुंचा था दिव्यांग, जानकारी लेने कुर्सी छोड़कर निकले आईजी साहब
x

बिलासपुर। दिव्यांग युवक अपनी समस्या को लेकर आइजी रतनलाल डांगी के पास पहुंचे। कार्यालय में मौजूद डांगी को पता चला तो उन्होंने अपनी कुर्सी से उठकर दिव्यांग युवक के पास चले गए। उनकी समस्या के बारे में जानकारी ली। आइजी ने मामले की जांच कर दोषियों पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। सोमवार को संतोष मिर्झा ने अपनी शिकायत में आइजी रतन लाल डांगी को बताया कि रायपुर के रहने वाला शरण नाम के व्यक्ति ने बैंक में नौकरी लगवाने का झांसा दिया। उन्होंने इसके एवज में चार लाख रुपये की मांग की। संतोष को नौकरी की जरूरत थी। इसलिए वे पैसा देने के लिए तैयार भी हो गए। किस्त-किस्त कर पूरे चार लाख रुपये दे दिए। इसके बाद शरण ने जल्द नौकरी के लिए ज्वाइनिंग लेटर उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया।

समय गुजरते गए, पर नौकरी के लिए ज्वाइनिंग लेटर नहीं मिला। जब संतोष फोन कर शरण से संपर्क करते थे। तब शरण आज कल कहते हुए घुमाने लगा। इससे पीड़ित को अहसास हो गया कि नौकरी नहीं मिलेगी। फिर उन्होंने शरण से पैसा वापस करने के लिए कहा। बार-बार दबाव बनाने पर शरण ने एक लाख रुपये लौटाया। बाकी रकम अभी तक वापस नहीं किया है। फोन करने पर वह फोन तक नहीं उठाता है। पैसा गबन होने के कारण पीड़ित की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। वह मानसिक रूप से परेशान रहते हैं। पैसा मिलने पर कुछ व्यवसाय करेंगे। ताकि अपने और स्वजनों का भरण पोषण कर सके। पीड़ित ने आइजी से आरोपित युवक पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। आइजी डांगी ने मामले को गंभीरता से लिया और आरोपित के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta