छत्तीसगढ़

चित्रकला के जरिये बच्चों ने दिया क्षय रोग के रोकथाम के संदेश

Shantanu Roy
27 March 2023 4:20 PM GMT
चित्रकला के जरिये बच्चों ने दिया क्षय रोग के रोकथाम के संदेश
x
छग
सुकमा। विश्व क्षय रोग दिवस के उपलक्ष्य पर जिला अस्पताल परिसर में आयोजित कार्यक्रम में बच्चों को क्षय रोग से स्वास्थ्य जीवन पर पडऩे वाले प्रभावों और क्षय रोग पर दिखने वाले संभावित लक्षणों की भी जानकारी दी गई। वहीं मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महेश शांडिया ने बच्चों को क्षय रोग के रोकथाम के लिए विभाग की ओर से किये जा रहे प्रयासों से अवगत कराया। साथ ही उन्होंने इस बीमारी के रोकथाम के लिए सभी की सहभागिता और जागरूकता जरूरी बताया। इसी तरह डॉ. अनामय ने भी बच्चों को आवश्यक जानकारियां दी। उन्होंने टीबी को मुक्त करने के लिए सबसे पहले सभी को बीमारी के प्रति जागरूक होना है और कड़ी से कड़ी जोडऩे वाली इस बीमारी के कड़ी को तोड़ते हुए भारत को टीबी मुक्त बनाना है। साथ ही उन्होंने बच्चों को प्रेरित करते हुए कहा कि टीबी लाइलाज बीमारी नहीं है इसका इलाज सम्भव है, इससे घबराएं नहीं, आस पड़ोस के किसी व्यक्ति में टीबी के संभावित लक्षण दिखने पर उन्हें अस्पताल जाकर जांच और उपचार कराने के लिए प्रोत्साहित करें। इस बीमारी की जांच और उपचार सभी सरकारी अस्पताल में नि:शुल्क किया जाता है। स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय पावारास सुकमा में विश्व क्षय रोग दिवस के उपलक्ष्य में शनिवार को चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।
इस आयोजन में शामिल स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय पावारास सुकमा, एकलव्य विद्यालय, पोटाकेबिन के 41 प्रतिभागियों ने क्षय रोग से सामाजिक जीवन और आर्थिक पहलुओं पर पडऩे वाले प्रभावों को चित्रकला में प्रदर्शित करके रोकथाम का संदेश दिया। चित्रकला प्रतियोगिता में शासकीय बालिका आवासीय हाई स्कूल सुकमा की छात्रा कु. अंजली बघेल ने प्रथम स्थान, एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय कुम्हाररास के छात्र ने द्वितीय स्थान और तृतीय स्थान स्वामी आत्मानंद विद्यालय की छात्रा कुमारी नैंसी ने प्राप्त किया, जिन्हें प्रशस्ति प्रमाण पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। वहीं जिले में क्षय रोग के नियंत्रण और क्षय रोग से पीडि़त व्यक्तियों के पहचान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले मितानिन भारती तेलामी, रामे बारसे, सरिता ठाकुर, कुन्नी सोढ़ी और पार्वती टोंडारे को प्रशस्ति प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। इसी के साथ ही निक्षय रोग के रोकथाम में महत्वपूर्ण सहभागिता निभाने वाले निक्षय मित्र छिंदगढ़ के संजय चांडक और निर्मला कमलाकर भिड़वई को भी सम्मानित किया गया। बता दें कि संजय चांडक द्वारा 11 टीबी मरीजों और निर्मला कमलाकर के द्वारा 10 टीबी मरीजों को गोद लिया गया है, साथ ही उन्हें 6 महीने तक पोषण आहार भी प्रदान कर रहे हैं। इस अवसर पर जिला क्षय उन्मूलन अधिकारी डॉ. महादेव बारसे, जिला कार्यक्रम समन्वयक मुकेश रॉय, जिला टीबी व एचआईवी क्वाडी नेटर जयनारायण, जिला पीपीएम समन्वयक नवीन पाठक, संतोष चौहान सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी और शिक्षक तथा विद्यार्थी गण उपस्थित थे।
Tagsछत्तीसगढ़ न्यूज हिंदीछत्तीसगढ़ न्यूजछत्तीसगढ़ की खबरछत्तीसगढ़ लेटेस्ट न्यूजछत्तीसगढ़ क्राइमछत्तीसगढ़ न्यूज अपडेटछत्तीसगढ़ हिंदी न्यूज टुडेछत्तीसगढ़ हिंदीन्यूज हिंदी न्यूज छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ हिंदी खबरछत्तीसगढ़ समाचार लाइवChhattisgarh News HindiChhattisgarh NewsChhattisgarh Ki KhabarChhattisgarh Latest NewsChhattisgarh CrimeChhattisgarh News UpdateChhattisgarh Hindi News TodayChhattisgarh HindiNews Hindi News ChhattisgarhChhattisgarh Hindi KhabarChhattisgarh News Liveदिन की बड़ी ख़बरअपराध खबरजनता से रिश्ता खबरदेशभर की बड़ी खबरताज़ा समाचारआज की बड़ी खबरआज की महत्वपूर्ण खबरहिंदी खबरजनता से रिश्ताबड़ी खबरदेश-दुनिया की खबरराज्यवार खबरहिंदी समाचारआज का समाचारबड़ा समाचारनया समाचारदैनिक समाचारब्रेकिंग न्यूजBIG NEWS OF THE DAYCRIME NEWSLATEST NEWSTODAY'S BIG NEWSTODAY'S IMPORTANT NEWSHINDI NEWSJANATA SE RISHTABIG NEWSCOUNTRY-WORLD NEWSSTATE-WISE NEWSTODAY NEWSNEWS UPDATEDAILY NEWSBREAKING NEWS
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta