छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामरी विधानसभा के बरियों में उप तहसील कार्यालय का निरीक्षण किया

jantaserishta.com
4 May 2022 2:01 PM GMT
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामरी विधानसभा के बरियों में उप तहसील कार्यालय का निरीक्षण किया
x
पढ़े पूरी खबर

रायपुर: प्रदेश के आयुर्वेदिक चिकित्सालयों और केन्द्रों में हर महीने के पहले गुरूवार को सियान जतन क्लीनिक का आयोजन किया जा रहा है। गुरुवार 5 मई को इन अस्पतालों में 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों का निःशुल्क जाँच एवं उपचार किया जाएगा।

आयुष संचालनालय के सहायक संचालक डॉ. विजय साहू ने बताया कि 7 अप्रैल 2022 से आयुष संचालनालय द्वारा नवाचार के रूप में प्रदेश के वृद्धजनों की सेहत की देखभाल के लिए आयुर्वेद के माध्यम से वृद्धावस्था में उत्पन्न होने वाले शारीरिक एवं मानसिक समस्याओं से पीड़ित वृद्धों को विशेष ओपीडी एवं पंचकर्म की सेवाएं राज्य के आयुर्वेदिक अस्पतालों में प्रदान की जा रही है। डॉ. साहू ने बताया की 5 मई 2022 को प्रदेश के रायपुर एवं बिलासपुर आयुर्वेदिक कॉलेज चिकित्सालय एवं दुर्ग, रायगढ़, बालोद, सरगुजा व बस्तर जिला आयुर्वेदिक अस्पताल, रायपुर, रायगढ़, बालोद, बिलासपुर, मुंगेली, जांजगीर, कोरबा, धमतरी, महासमुंद, राजनांदगांव, कबीरधाम, सूरजपुर, कोरिया, जशपुर और कांकेर जिले के 22 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में संचालित स्पेशलाइज्ड थेरेपी सेंटर्स एवं रायपुर, धमतरी, महासमुंद, दुर्ग, कोरबा, जांजगीर, राजनांदगांव, कवर्धा, सरगुजा, कोरिया, रायगढ़, जशपुर, जगदलपुर, दंतेवाड़ा व कांकेर जिले के 15 जिला अस्पतालों में संचालित आयुष विंग में सियान जतन क्लीनिक आयोजित किए जाएंगे। सियान जतन क्लीनिक में उपचार के लिए आए बुजुर्गों का विस्तृत विवरण भी इन चिकित्सालयों में संधारित किया जा रहा है। जिससे कि जरूरत पड़ने पर इन मरीजों का फॉलोअप भी किया जाएगा। डॉ. साहू ने बताया की पूर्व में संचालित सियान जतन क्लीनिकों में 60 वर्ष से अधिक आयु के 906 बुजुर्गों का ईलाज किया गया था।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta