Top
छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: इस दिव्यांग को 24 घंटे में मिला रोजगार...अब मनरेगा में करेगा मेटगीरी

Admin2
2 Nov 2020 4:11 PM GMT
छत्तीसगढ़: इस दिव्यांग को 24 घंटे में मिला रोजगार...अब मनरेगा में करेगा मेटगीरी
x

कलेक्टर संजीव कुमार झा के निर्देशानुसार जिला प्रशासन सरगुजा लोगों के समस्याओं का संवेदनशीलता के साथ समाधान किया जा रहा है। इसी कड़ी में अम्बिकापुर जनपद के ग्राम केशवपुर निवासी दिव्यांग सुरेश मानिकपुरी के आवेदन पर त्वरित कार्यवाही करते हुए आवेदन देने के 24 घंटे के अंदर ही जनपद पंचायत द्वारा जॉब कार्ड तैयार कर मनरेगा में मेट का काम दिलाया गया। सुरेश अब मनरेगा कार्य स्थल के साथ ही गोठान में श्रमिकों को पानी पिलाने और मेट का काम करेगा, जिसके लिए उसे 190 रुपये प्रतिदिन की दर से मजदूरी मिलेगी। जॉब कार्ड से रोजगार मिलने से सुरेश के चेहरे पर खुशी झलक उठी और वह जिला प्रशासन को इसके लिए धन्यवाद दिया।

केशवपुर निवासी करीब 34 वर्षीय और शत प्रतिशत दिव्यांग श्री सुरेश मानिकपुरी ने बताया कि परिवार में पत्नी के अलावा एक पुत्र है जिसका भरण पोषण मां को मिल रही परिवार पेंशन की राशि से हो रही है। कोई काम-धंधा नही होने से उन्हें परिवार चलाने में बहुत परेशानी हो रही थी। अब मनरेगा में काम मिल जाने से परिवार के भरण-पोषण में वह भी सहभागी बन सकेगा। सुरेश बताते हैं कि वे गांव के ही स्कूल से कक्षा आठवीं पास है। हाई स्कूल दूर होने के कारण आगे की पढ़ाई नही कर पाए। परिवार के भरण पोषण में हाथ बंटाने के लिए छोटा-मोटा दुकान खोलने की भी ईच्छा हुई लेकिन आर्थिक स्थिति और अनिश्चितता के कारण जोखिम नहीं ली। उन्होंने बताया कि अपने दैनिक कार्यों के लिए आने-जाने के लिए प्रशासन द्वारा कुछ वर्ष पूर्व ट्राई सायकल उपलब्ध कराया गया था। पुराना और मैनुअल होने के कारण इससे आने-जाने में परेशानी होती है। मोटराइज्ड ट्राईसायकल मिलने से उन्हें आसानी होगी। जनपद पंचायत अम्बिकापुर के सी.ई.ओ. एस.एन. तिवारी ने बताया कि केशवपुर निवासी सुरेश मानिकपुरी के आवेदन पर तत्काल कार्यवाही का निर्देश कलेक्टर द्वारा दिया गया था जिसके परिपालन में जॉब कार्ड तैयार कर मनरेगा में मेट का काम दिया गया है।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it