Top
छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: तेदूपत्ता का संग्रहण 6 मई से होगा प्रारंभ, कोविड का पालन करते हुए तेदूपत्ता तोड़ने की अपील

Kunti
4 May 2021 11:15 AM GMT
छत्तीसगढ़: तेदूपत्ता का संग्रहण 6 मई से होगा प्रारंभ, कोविड का पालन करते हुए तेदूपत्ता तोड़ने की अपील
x
तेदूपत्ता का संग्रहण

छत्तीसगढ़: कांकेर। शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत कांकेर जिला अंतर्गत वनमण्डल कांकेर एवं भानुप्रतापपुर पूर्व एवं पश्चिम वन मण्डल में तेंदूपत्ता (हरा सोना) तोड़ाई का कार्य 06 मई से प्रारंभ होगा। तेंदुपत्ता का समर्थन मूल्य 04 हजार रूपये प्रति मानक बोरा निर्धारित किया गया है। कांकेर जिले के तीनों वनमण्डल को मिलाकर जिला यूनियन अंतर्गत कुल 02 लाख 15 हजार 400 मानक बोरा तेदूपत्ता संग्रहण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। कांकेर जिला यूनियन में 38 हजार 100, पूर्व भानुप्रतापपुर में 96 हजार 900 एवं पश्चिम भानुप्रतापपुर को 80 हजार 400 तेंदूपत्त संग्रहण का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। कोरोना के संक्रमण से बचाव हेतु संग्राहकों को मास्क, सेनेटाईजर, हैण्डवाश इत्यादि वन विभाग की ओर से उपलब्ध कराई जा रही है। जिले के वनमण्डलाधिकारियों द्वारा तेन्दूपत्ता संग्राहकों को कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर जैसे- मास्क लगाना, सेनेटाईजर एवं हैण्डवाश का उपयोग तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सुरक्षात्मक ढंग से तेंदूपत्ता संग्रहण करने की अपील किया गया है।

वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार विगत वर्ष 2020 में कांकेर जिले के तीनों वनमण्डल को मिलाकर 01 लाख 78 हजार 477 मानक बोरा तेन्दुपत्ता का संग्रहण किया जाकर संग्राहकों को 71 करोड़ 39 लाख रूपये का भुगतान किया गया। इस वर्ष विगत वर्ष से अधिक तेंदूपत्ता का संग्रहण किया जाकर 86 करोड़ 12 लाख रूपये का भुगतान संग्राहकों को होने की संभावना है। वन विभाग कांकेर द्वारा समस्त ग्रामीण-संग्राहकों से अपील किया गया है कि कोरोना माहमारी के रोकथाम हेतु शासन द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए अधिक से अधिक तेंदूपत्ता संग्रहण किया जावे।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it