छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: पटवारी के साथ मारपीट, 2 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

jantaserishta.com
7 Feb 2022 1:38 PM GMT
छत्तीसगढ़: पटवारी के साथ मारपीट, 2 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
x
पढ़े पूरी खबर

जशपुर: छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में पटवारी के साथ मारपीट करने वाले 2 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपियों ने मिलकर पटवारी को जान से मारने की धमकी दी थी। फिर उसके साथ मारपीट कर उसका गला भी दबा दिया था। जिससे पटवारी घायल हुआ था। वारदात को अंजाम देकर आरोपी ओडिशा में जाकर छिप गए थे। मगर अब पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। मामला तपकरा थाना क्षेत्र का है।

दरअसल, 03 फरवरी को घुमरा हल्का पटवारी ब्रजेश कुमार बेहरा भौतिक सत्यापन के लिए मसरीघाट के किसान निस्तोर एक्का के घर गए थे। पटवारी को पता चला था कि निस्तोर ने 70 क्विंटल धान का टोकन कटाया है। इसके पहले किसान ने कभी इतने धान बेचने के लिए टोकन नहीं कटाया था। इसी वजह से पटवारी को शक था और वे मौके पर सत्यापन के लिए गए थे।
बताया गया कि जब पटवारी ने किसान निस्तोर के घर में जांच की तो घर में धान की बोरियां नहीं मिली। इस पर पटवारी ने किसान से पूछा तो उसने बताया कि उसने धान बेचने का कोई टोकन इस बार ही नहीं कटवाया है। जिसके बाद पटवारी ने वहां पर पंचनामा बनाया और पंचनामा बनाकर वापस लौट रहे थे।
पटवारी ब्रजेश कुमार ने बताया कि जैसे ही वह लौटने लगे तो इस बात की जानकारी सुंडरू निवासी नंदकुमार यादव और ह्दयानंद यादव को लग गई और दोनों मौके पर पहुंच गए और रास्ते में पटवारी को रोक लिया। ब्रजेश ने यह भी बताया कि इन्हीं दोनों ने मंडी से निस्तोर के नाम पर टोकन कटवाया था। इसी वजह से पंचनामा की बात सुनकर ये हड़बड़ गए और इन्होंने बीच रास्ते में उन्हें रोककर मारपीट की। साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी थी। पता चला था कि आस-पास के लोगों ने जब बीच बचाव किया था तब दोनों पटवारी को छोड़कर भाग गए थे। घटना के बाद पटवारी ने पूरे मामले की शिकायत थाने में की थी। जिसके बाद से ही पुलिस मामले की जांच कर रही थी। जांच में ये भी पता चला की दोनों आरोपी अवैध रूप से किसान के नाम से धान बेचना चाहते थे.
घटना के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों के घर पर दबिश भी दी थी। मगर वह भाग चुके थे। उस दिन पुलिस ने काफी तलाश किया। लेकिन आरोपियों का कुछ पता नहीं चला। इसके बाद पटवारी संघ के लोग नाराज भी हो गए थे और उन्होंने एसडीएम को ज्ञापन भी सौंपा था। पटवारी संघ के लोगों ने कहा था कि आरोपी की गिरफ्तारी यदि सोमवार तक नहीं होती तो वे हड़ताल पर चल जाएंगे। इस बीच पुलिस को सूचना मिली की दोनों आरोपी ओडिशा के सागबहाल में छिपे हुए हैं। फिर पुलिस ने मौके पर दबिश दी थी और दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta