छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: बच्ची का अश्लील फोटो और वीडियो बनाया, अब ब्लैकमेलिंग की कोशिश

jantaserishta.com
30 April 2022 4:43 PM GMT
छत्तीसगढ़: बच्ची का अश्लील फोटो और वीडियो बनाया, अब ब्लैकमेलिंग की कोशिश
x
पढ़े पूरी खबर

कोरिया: छत्तीसगढ़ के कोरिया में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। मॉर्निंग वॉक पर निकली एक युवती को दो नकाबपोशों ने रास्ते में रोक लिया। फिर पुरानी बनाई गई अश्लील वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर युवती को ब्लैकमेल करने लगे। खास बात यह है कि उस वीडियो को करीब 10 साल पहले बनाया गया था, जब युवती 5वीं क्लास में पढ़ती थी और खुद 10 साल की थी। मामला बैकुंठपुर थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, साल 2012-13 में युवती बिलासपुर के एक स्कूल में 5वीं क्लास की छात्रा थी। इस दौरान उसकी पहचान शबीना, उसके पहले पति के बेटे अमान हुसैन और अन्य रिश्तेदारों अयाज अंसारी, नबील खान, बसर खान से हुई थी। आरोप है कि युवकों के साथ मिलकर शबीना ने जबरदस्ती उस समय 10 साल की बच्ची का अश्लील फोटो और वीडियो बना लिया। साथ ही किसी को बताने पर वायरल करने की धमकी भी दी थी।
बच्ची पढ़ाई कर शहर लौट आई, पर हुआ कुछ नहीं
हालांकि इसके बाद हुआ कुछ नहीं। न बच्ची ने किसी को बताया और न फोटो-वीडियो कहीं वायरल हुए। बच्ची अपनी स्कूली पढ़ाई पूरी कर अपने शहर भी लौट आई। अब 10 साल बाद फिर से वही सब कुछ उस बच्ची के सामने आ गया। 19 साल की हो चुकी वह बच्ची सुबह करीब 6 बजे मॉर्निंग वॉक करने के लिए घर से निकली थी। इसी दौरान दो नकाबपोशों ने उसका रास्ता रोका और वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने लगे।
दो आरोपियों में एक थी महिला
युवती ने पुलिस को बताया कि दोनों आरोपियों में एक महिला थी। जब युवती के साथ आरोपियों ने वीडियो बनाया था, तब उसकी उम्र महज 10-11 साल रही। युवती ने बताया वह डर से अब तक चुप थी। परिजन को भी कुछ नहीं बताया था, लेकिन 10 साल बाद भी पीछा करते हुए आरोपी उसके घर तक पहुंच गए। तब उसने घटना की पूरी जानकारी परिजन को दी और थाने में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया है।
डेबिट कार्ड और आधार कार्ड से हुई आरोपी की पहचान
युवती ने बताया वह घर के बाहर मार्निंग वॉक करने निकली, तो उसे दो नाकाबपोश एक महिला और पुरुष ने उसे रास्ते में रोक लिया। उसका वीडियो वायरल करने की धमकी देकर भाग गए। भागते हुए एक आरोपी का आधार कार्ड और बैंक का एटीएम कार्ड गिर गया। आधार कार्ड और बैंक का कार्ड और एटीएम पर्ची, जिसका नंबर S5NE006085621 है, जिससे आरोपी की पहचान मो. सहीम के रूप में की गई है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta