छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: कक्षा 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर

Admin2
25 Jun 2021 5:11 PM GMT
छत्तीसगढ़: कक्षा 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर
x

रायपुर। आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम की अध्यक्षता में आज मंत्रालय महानदी में आवासीय एवं आश्रम शैक्षणिक संस्थान समिति संचालक मण्डल की बैठक आयोजित की गई। बैठक में शिक्षण सत्र 2021-22 में कक्षा 11वीं एवं 12वीं के विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षा के लिए अतिरिक्त कोचिंग का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजने का अनुमोदन किया गया। छत्तीसगढ़ में वर्ष 2021-22 में केन्द्र सरकार द्वारा चार नवीन एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय की स्वीकृति प्रदान की है। मंत्री डॉ. टेकाम ने कहा कि प्रदेश में संचालित आवासीय एवं आश्रम के प्राचार्याें और शिक्षाकों को प्रशिक्षण समय-समय पर आयोजित होते रहना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वर्तमान परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था के विकल्प भी सुनिश्चित करें। बैठक में सचिव आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विभाग श्री डी.डी. सिंह, आयुक्त श्रीमती शम्मी आबिदी सहित संचालक मण्डल के सदस्य उपस्थित थे।

बैठक में बताया गया कि शिक्षण सत्र 2021-22 में कक्षा 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को इंजीनियरिंग एवं मेडिकल प्रवेश परीक्षा के तैयारियों के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन विद्यालन प्रारंभ होने की स्थिति के अनुसार कोचिंग योजना प्रारंभ करने की अनुमति का प्रस्ताव केन्द्र को भेजा जाएगा। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य में वर्ष 2020-21 में भारत सरकार द्वारा 29 नवीन एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय स्वीकृत किए थे, जो प्रारंभ हो चुके हैं। अधिकारियों ने बताया कि वर्ष 2005 में 8 एकलव्य विद्यालय के स्वीकृति से यह योजना प्रारंभ हुई थी। अब वर्तमान में 24 जिलों में एकलव्य विद्यालय 71 प्रारंभ हो चुके हैं। केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश में वर्ष 2021-22 में चार नवीन एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय जशपुर जिले के विकासखण्ड मनोरा के ग्राम ढेंगनी और विकासखण्ड फरसाबहार, रायगढ़ जिले के विकासखण्ड लैलूंगा के ग्राम हीरापुर और सरगुजा जिले के विकासखण्ड लुन्ड्रा ग्राम सहानपुर के लिए स्वीकृत किए हैं। इन विद्यालयों के संचालन, मॉनिटरिंग, निरीक्षण, नियंत्रण और केन्द्र से चाही गई जानकारी समय पर भेजने के लिए राज्य स्तरीय प्रकोष्ठ की आवश्यकता होगी।

संचालक मण्डल की बैठक में नवीन शिक्षा सत्र 2021-22 में कक्षा 6वीं में प्रवेश के लिए कक्षा 5वीं के मापदंड में शिथिलता प्रदान करने का अनुमोदन किया गया। बैठक में बताया गया कि शिक्षण सत्र 2020-21 में कोविड-19 के कारण विद्यालय प्रारंभ नहीं हुए। कक्षा 5वीं में अध्ययनरत विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन दिया गया है। जिसके कारण कक्षा 5वीं में 50 प्रतिशत अंक अर्जित करने की अनिर्वायता को शिथिल किया गया है। कक्षा 6वीं में प्रवेश के लिए चयन परीक्षा के अंकों के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। चयन परीक्षा का आयोजन 15 जुलाई को दोपहर 12 बजे से निर्धारित है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta