छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ चेंबर चुनाव में पैनलों की बाढ़

Admin2
6 Nov 2020 5:46 AM GMT
छत्तीसगढ़ चेंबर चुनाव में पैनलों की बाढ़
x
व्यापारी एकता पैनल में दावेदारों की लंबी फेहरिस्त

जसेरि रिपोर्टर

छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कामर्स का चुनाव लगभग करीब ही है, दिसंबर जनवरी में चुनाव होने की उम्मीद है बहरहाल चुनाव जब कभी हो दावेदारों की लम्बी फेहरिस्त विभिन्न पैनलों के पास आने लगी है। इस बार चेम्बर का चुनाव काफी दिलचस्प होने के आसार है। क्योकि विगत 15 सालों से छत्तीसगढ़ में भाजपा का शासन था और चेम्बर के पदाधिकारी प्राय: भाजपा समर्थित व्यापारी नेता ही चुने जाते थे, परन्तु अभी की स्थिति कुछ और ही बयां कर रही है। छत्तीसगढ़ में अभी कांग्रेस का शासन होने के वजह से लाजिमी है चेम्बर में कांग्रेस समर्थित पदाधिकारी काबिज होने की मंशा रखने लगे हैं। कांग्रेस शासन आने के बाद यह पहला चुनाव है इस वजह से कांग्रेस समर्थित व्यापारी नेतागणों का भी मन मचल रहा है कि वे भी चुनाव लड़कर पदाधिकारी बने और चेम्बर की राजनीती से आगे बढ़ें और इसके लिए वे जोर आजमाइश में लग गए हैं। और नेतागिरी के चक्कर में छोटे बड़े का भी ख्याल नहीं रख रहे हैं। ऐन केन प्रकारेण चेम्बर को हथियाना ही चाहते हैं। इसी का नतीजा है की पहले सिर्फ छत्तीसगढ़ चैम्बर ऑफ कामर्स ही हुआ करता था जो व्यापारियों का सुख दु:ख के लिए प्लेटफार्म था लेकिन नेतागिरी के चस्के ने कैट को भी जन्म दे दिया। ऐसा देखा गया है कि जो व्यापारी चेम्बर के नेतागिरी से परेशान हैं या पदाधिकारी चुनकर नहीं आएं हैं या किसी बात की नाराजगी है, वे सब मिल कैट के तरफ होते गए और कैट को चैम्बर के समकक्ष खड़ा करने में कोई कोर कसर बाकी नहीं रखे। अभी जय व्यापार पेनल और व्यापारी एकता पैनल के लोग ही चुनाव में भाग ले रहे हैं, जनता से रिश्ता ने पहले ही संभावना जाहिर की थी चेंबर चुनाव में एक और पेनल का उदय हो सकता जो सच साबित हुआ। अब विकास पेनल के नाम से यूएन अग्रवाल ने एक नया संगठन बना लिया है। व्यापारी एकता पैनल के तले चुनाव लडऩे वालों के लिए 5 नवम्बर नाम जमा करने का अंतिम दिन था जिसमे काफी तादात में व्यापारियों ने अपने नाम चुनाव संयोजक के पास पहुंचा दिया है। इनमें प्रमुख रूप से अध्यक्ष के लिए 11, महामंत्री पद के लिए 7, कोषाध्यक्ष के लिए 6, उपाध्यक्ष के लिए 23 और मंत्री पद के लिए 12 व्यापारियों ने आवेदन दिए हैं । एकता पैनल के प्रवक्ता ललित जैसिंघ ने बताया की पंच कमेटी के सदस्य सुशील अग्रवाल के पास जितने भी फार्म आये हैं इसी सप्ताह पंच कमेटी की बैठक रखी जाएगी। जहां पर बैठक में उम्मीदवारों का नाम सर्वसम्मति से तय किया जायेगा। वर्तमान में जिन्होंने आवेदन दिए है उनमें प्रमुख रूप से अध्य्क्ष पद के लिए योगेश अग्रवाल,विनय बजाज,राधाकिशन सुंदरानी ,लालचंद गुलवानी, राजकुमार राठी,हरख मालू, किशोर आहूजा, पप्पू फरिश्ता,चन्दर विधानी है, वही महामंत्री पद के लिए राजेश वासवानी, चन्दर विधानी, प्रकाश अग्रवाल,राजेन्द्र जग्गी और सतीश जैन व कोषाध्यक्ष के लिए नीतिकेश बरडिया, राजेंद्र जग्गी और सतीश जैन शामिल हैं। साथ ही उपाध्यक्ष के लिए सचिन मेघानी, गौरव मंधानी, आलोक सिंह, प्रकाश लालवानी सहित सुरेश मध्यान ने अपना आवेदन जमा किया है। अब कौन किस पद के लिए फाइनल होगा पंच कमेटी के बैठक में तय होगा। इस चुनाव में दिलचस्प मोड़ तब देखने को मिला जब अमर पारवानी के पैनल के राजकुमार राठी ने भी अध्यक्ष पद के लिए व्यापारी एकता पैनल से चुनाव लडऩे की मंशा रखते हुए अपना आवेदन दिया है। व्यापारी नेता बताते है, कि अभी समीकरण और बनेंगे, चुनाव काफी दिलचस्प होने के आसार नजर साफ आ रहा है।

व्यापारिक हितों के लिए काम करेंगे : इस बार के चेंबर चुनाव में जय व्यापार पैनल अपने चुनाव प्रचार में जुटा हुआ है। पेनल का कहना है कि वे पूरी तरह से चेंबर से राजनीति हटा देंगे और व्यापारिक हितों के लिए काम करेंगे। इस पेनल के अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी हैं।व्यापारी विकास की बैठक 10 को : व्यापारी विकास पेनल की बैठक 10 नवंबर को होने वाली है। इसके अध्यक्ष प्रत्याशी यूएन अग्रवाल हैं। मजबूत चेंबर चाहिए : व्यापारियों का कहना है कि इस साल के चुनाव में वे मजबूत चेंबर चाहते हैं, जो व्यापारिक हितों पर ही काम करे। पिछले कुछ सालों में चेंबर में लड़ाई-झगड़े ही हुए हैं।

टिकट को लेकर सभी पेनलों में घमासान के आसार

व्यापारिक सूत्रों का कहना है कि अब यह नया पेनल किसके साथ होगा, यह कहना अभी मुश्किल है। दूसरी ओर चेंबर में सत्तासीन व्यापारी एकता पेनल में चुनाव लडऩे के इच्छुक दावेदारों के आवेदन पांच नवंबर तक मंगाए गए थे। बताया जा रहा है कि अब तक कुल 60 आवेदन आ चुके हैं और इनमें से भी अकेले अध्यक्ष पद के लिए ही 10 आवेदन आए हैं। सूत्रों के अनुसार इस चुनाव में भी टिकट को लेकर घमासान मचने के संकेत हैं। बहुत से व्यापारी नाराजगी जता चुके हैं और उनका सीधे कहना है कि प्रत्याशी तय होने के बाद ही उनका अगला कदम तय होगा। व्यापारी एकता पैनल की पंच कमेटी के सुशील अग्रवाल ने बताया कि कुछ दिनों में पंच कमेटी की बैठक होगी और बैठक में प्रत्याशी तय होंगे।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta