छत्तीसगढ़

रायपुर रेलवे स्टेशन में बीजेपी नेता की पिटाई विवाद

Janta Se Rishta Admin
19 Sep 2021 12:39 PM GMT
रायपुर रेलवे स्टेशन में बीजेपी नेता की पिटाई विवाद
x

रायपुर। रायपुर रेलवे स्टेशन में बीजेपी नेता छगन मुंदडा की पिटाई करने का मामला सामने आया है. मिली जानकारी के मुताबिक महिलाओं से ट्रैन में सफर करने के दौरान विवाद हुआ था.वही महिलाओं ने मुंदडा द्वारा रेलवे स्टेशन पर अपने गुर्गों को मारपीट के लिए बुलाने का आरोप लगाया है. और भारी सुरक्षा के बीच भाजपा कार्यकर्ताओं ने मुंदडा को जीआरपी थाना पहुँचाया गया.

जानकारी के अनुसार महिला यात्री अपने परिवार के साथ यात्री कर रही थी. उसके साथ छगन मुंदडा द्वारा मारपीट की गई. और छगन मुंदडा के गुंडे द्वारा रायपुर स्टेशन में महिला यात्री और उनके परिवार के साथ मारपीट की गई है. राजनितिक दवाब चलते अपराध दर्ज नहीं किया गया. और छगन लाल मुंदडा को जीरपी पुलिस बचाती दिखी। बीजेपी के पूर्व मंत्री द्वारा हस्तक्षेप के बाद छगन मुंदडा के खिलाफ किसी भी प्रकार की कानूनी कार्रवाई नहीं की गई. और पीड़ित परिवार को धमकाया गया.

विवाद की शुरआत नागपुर स्टेशन से हुई. जनपद अध्यक्ष देवभोग नेहा सिंघल ने कुछ सामान छगन लाल के तरफ रख दिया था. जिससे मुंदडा अपने गुस्से के कारण आपे से बाहर हो गए. और गाली -गलौज कर नेहा सिंघल के साथ मारपीट किया। जिसकी शिकायत पीड़िता ने नागपुर जीआरपी को दी. रायपुर स्टेशन पहुंचते ही छगन लाल मुंदडा ने अपने सर्मथक और गुंडे बुला रखे थे, जो स्टेशन पर नेहा के पापा दिलीप अग्रवाल और उनके पुत्र नेहा एव उसके पति को लेने आये थे, उसके साथ भी धक्का-मुक्की और मारपीट की गई। दोनों पक्षों द्वारा भारी तनाव और दबाव को देखते हुए मुंदडा परिवार को झुकना पड़ा. और आपसी रजिनामा कर मामले को सुलझाने की कोशिश की गई. यह जानकारी पीड़िता के पिता दिलीप अग्रवाल ने जनता से रिश्ता को फोन पर जानकारी मांगने पर दी.

इस मामले में जीआरपी थाना प्रभारी आरके बोरछा ने बताया कि किसी भी पक्ष की ओर से शिकायत दर्ज नहीं करवाने की जानकारी दी गयी है। आपको बता दे कि भाजपा नेता मुंदडा अपने परिवार समेत अहमदाबाद-पूरी एक्सप्रेस के बी-2 और बी-4 बोगी में सूरत से आ रहे थे। इसी दौरान टीटी ने नेहा को सीट दी तो जिस पर मुंदडा का सामान रखा हुआ था जिसको हटाने पर विवाद हुआ लेकिन ट्रैन में सफर कर रहे लोगों ने मामला शांत करा दिया जिसके बाद महिलाओं ने मुंदडा पर आरोप लगाया है कि उन्होंने राजधानी रायपुर पहुँचते ही देख लेने की धमकी देते हुए अपने गुर्गों को रायपुर रेलवे स्टेशन बुलाकर रखा था लेकिन मुंदडा का यह दाँव उल्टा पड़ गया।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta