छत्तीसगढ़

और बच गई पथरी से ग्रसित मरीज की जान, डॉक्टरों ने किया सफल ऑपरेशन

Janta Se Rishta Admin
14 May 2022 3:01 AM GMT
और बच गई पथरी से ग्रसित मरीज की जान, डॉक्टरों ने किया सफल ऑपरेशन
x

बिलासपुर। सिम्स के डॉक्टरों ने युवक के पेट से एक किलो की पथरी निकालकर उसकी जान बचाई है। वह छह महीने से पेट दर्द और पेशाब में जलन को लेकर परेशान था और दूसरी शारीरिक समस्याएं भी शुरू हो गई थी। इसके बाद ही अस्पताल के गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी के विशेषज्ञों ने इसकी जांच शुरू की। इसमें पाया कि उसके पेट में पथरी हो गई है। सर्जरी कर पथरी को निकाला। डॉक्टरों ने बताया कि सर्जरी में काफी दिक्कत हुई है।

पेंड्रा के रहने वाले मालिक रजक पिता बज्जू रजक 31 साल काफी दिनों से पेट की समस्या से परेशान थे। उनके पेट के दर्द रहता था और अक्सर पेशाब करने में दिक्कत हो रही थी। उन्होंने क्षेत्र के आसपास के डॉक्टरों से मुलाकात की लेकिन वे कुछ ऐसा नहीं कर पाए जिससे उन्हें राहत मिले। इसके बाद उन्होंने सिम्स के डॉक्टरों से मुलाकात की। यह मामला मेडिकल सुपरिटेंडेंट नीरज सेंडे के संज्ञान में आया। उन्होंने तत्काल अस्पताल के पेट रोग से जुड़े डॉक्टरों से बातचीत कर आगे जांच और इलाज के निर्देश दिए।

सिम्स में ऑपरेशन वाली टीम का हिस्सा रहे डॉक्टर बृजेश पटेल ने बताया कि ऐसे केस कम ही आते हैं जिसमें किसी इंसान के शरीर से एक किलो की पथरी निकले। आमतौर पर इसका वजन दो सौ से तीन सौ ग्राम ही होता है, लेकिन किलोभर की पथरी में सर्जरी के दौरान उसे पेट से निकालने में काफी समस्या आती है। इसमें ही वही हुआ।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta