बिहार

टीईटी उतीर्ण छात्रों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

Shantanu Roy
29 Nov 2021 11:09 AM GMT
टीईटी उतीर्ण छात्रों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा
x
नियुक्ति की मांग को लेकर बिहार के विभिन्न जिलों से आये टीईटी उतीर्ण छात्रों (TET Passed Students) ने सोमवार को गर्दनीबाग में धरना दिया. जहां उन्होंने सरकार से नियुक्ति पत्र जल्द देने की मांग की.

जनता से रिश्ता। नियुक्ति की मांग को लेकर बिहार के विभिन्न जिलों से आये टीईटी उतीर्ण छात्रों (TET Passed Students) ने सोमवार को गर्दनीबाग में धरना दिया. जहां उन्होंने सरकार से नियुक्ति पत्र जल्द देने की मांग की. धरना दे रहे प्राथमिक शिक्षक अभ्यर्थियों का कहना है कि सरकार चयन के बाद भी नियुक्ति पत्र नहीं दे रही है. शिक्षा मंत्री उमीदवारों को भ्रम में डाल रहे हैं. यही कारण है कि हमलोगों को आज धरना ( Primary Teacher protest in patna ) पर बैठना पड़ा. सरकार की नीयत शिक्षक बहाली को लेकर ठीक नहीं है.धरना पर बैठी प्राथमिक शिक्षक अभ्यर्थी श्वेता कुमारी का साफ-साफ कहना है कि 38000 से ज्यादा छात्र हैं. जिनका चयन हो चुका है. लेकिन अभी तक उन्हें नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया है. विभाग बार-बार सिर्फ आश्वासन दे रहा है. शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी लगातार कुछ से कुछ कह रहे हैं. लेकिन सच्चाई यही है कि शिक्षक बहाली (Bihar Primary Teachers Recruitment) को लेकर सरकार अपना काम नहीं कर रही है.

शिक्षकों का कहना है कि अभ्यर्थियों के बीच में संशय की स्थिति बनी हुई है और हमलोग आज धरना पर बैठे हुए हैं. सरकार को चाहिए कि जल्द से जल्द जो शिक्षक चयनित हुए हैं उन्हें नियुक्ति पत्र दे. उन्होंने कहा कि 94 हजार की नहीं उससे ज्यादा छात्र बिहार में टीईटी या सीटीईटी उतीर्ण है. उसके बारे में भी सरकार को सोचना होगा.
वहीं टीईटी उतीर्ण अभ्यर्थी संघ के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि सरकार ऐसे अभ्यर्थियों के साथ अन्याय कर रही है. इसीलिए हमलोग विवश होकर सड़क पर उतरे हैं. सरकार को बताना होगा कि आखिर कब तक नियोजन की पूरी प्रक्रिया समाप्त होगी. कब तक नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे. जब तक सरकार इसकी घोषणा नहीं करती है हमलोग धरना पर डटे रहेंगे.
बता दें कि प्रारंभिक शिक्षकों के 90,762 पदों पर छठे चरण के नियोजन की प्रक्रिया वर्ष 2019 में शुरू हुई थी जो अब तक पूरी नहीं हुई है. इस वर्ष जुलाई और अगस्त महीने में दो राउंड की काउंसलिंग में 38 हजार से ज्यादा अभ्यर्थियों का चयन हो चुका है लेकिन उन्हें अब तक नियुक्ति पत्र नहीं मिला है जबकि उनके सर्टिफिकेट शिक्षा विभाग के पास जमा है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta