बिहार

अब बिहार में पुलिसवालों को पल-पल की अपडेट देनी होगी, काम का ब्योरा रजिस्टर में होगा दर्ज

Renuka Sahu
30 April 2022 6:00 AM GMT
Now the policemen in Bihar will have to update every moment, the details of the work will be recorded in the register.
x

फाइल फोटो 

थाने से गश्ती वाहन कब निकला। पदाधिकारी गश्ती के दौरान किन जगहों पर पहुंचे।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। थाने से गश्ती वाहन कब निकला। पदाधिकारी गश्ती के दौरान किन जगहों पर पहुंचे। गश्ती के दौरान क्या किया और कब थाना लौटे। यह सारी जानकारी गश्ती पदाधिकारी को देनी होगी। उन्हें सबकुछ बताना होगा। गश्ती को सुदृढ़ करने के लिए वरीय अधिकारी ने नई व्यवस्था की है। अब सभी गश्ती वाहनों में पंजी (रजिस्टर) रखना अनिवार्य कर दिया गया है। उस पंजी में गश्ती के दौरान की पूरी जानकारी लिखना गश्ती पदाधिकारी की जिम्मेदारी होगी। गश्ती पंजी की इंस्पेक्टर से लेकर एसएसपी तक कोई भी पदाधिकारी जांच कर सकते हैं।

घटना की जानकारी मिलने पर कितनी देर में पहुंचे, यह भी देखा जा रहा
गश्ती के दौरान पदाधिकारी और जवानों का मुख्य कार्य थाना क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में भ्रमण करने के साथ ही कोई आपराधिक घटना होने पर वहां समय पर पहुंचना भी है। गश्ती को और बेहतर बनाने के लिए रिस्पांस टाइम भी देखा जा रहा है। यानी किसी आपराधिक घटना की जानकारी मिलने के कितनी देर बाद गश्ती वाहन घटनास्थल पर पहुंचता है यह भी पंजी में दर्ज करना होगा।
अगर घटनास्थल पर पहुंचने में गश्ती दल को देरी होती है तो उसका कारण बताना होगा और लापरवाही मिलने पर वरीय अधिकारी कार्रवाई भी कर सकते हैं। गौरतलब है कि पुलिस मुख्यालय भी गश्ती को लेकर गंभीर है। गश्ती को और सुदृढ़ बनाने और लोगों में सुरक्षा भाव को और मजबूत करने को लेकर मुख्यालय स्तर से कई बार निर्देश जारी किया जा चुका है।
तीन थानों के गश्ती वाहन की जांच वरीय अधिकारी रोज कर रहे
थानों से निकलने वाले गश्ती वाहन पर सवार पदाधिकारी और जवान अपने कर्तव्य का निर्वहन ठीक से कर रहे हैं या नहीं, इसकी जांच के लिए रोजाना पदाधिकारी निकल रहे हैं। इंस्पेक्टर से एसपी तक रोजाना तीन-तीन थानों के गश्ती पार्टी की जांच में निकल रहे। निरीक्षण में निकलने वाले पदाधिकारी गश्ती पदाधिकारियों के कार्यकलाप पर नजर रख रहे।
गश्ती वाले पदाधिकारी और जवान किसी एक जगह पर वाहन खड़ी कर बैठे न रहें, इसपर ध्यान दिया जा रहा। इसके साथ ही गश्ती पंजी का भी ऑन स्पॉट निरीक्षण किया जा रहा। गश्ती में लापरवाही पाये जाने पर पदाधिकारी उस गश्ती पदाधिकारी के विरुद्ध एसएसपी को रिपोर्ट करेंगे और उस रिपोर्ट के आधार पर एसएसपी कार्रवाई करेंगे। एसएसपी ने खुद लापरवाही पकड़ी तो वे स्वयं कार्रवाई करेंगे।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta