बिहार

कपड़ा व्यापारी से 10 लाख रंगदारी की मांग, दो आरोपी गिरफ्तार

Rani Sahu
21 May 2022 1:05 PM GMT
कपड़ा व्यापारी से 10 लाख रंगदारी की मांग, दो आरोपी गिरफ्तार
x
बेगूसराय के बीरपुर से 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है

Darbhanga: extortion case: बेगूसराय के बीरपुर से 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि एक कपड़ा व्यवसायी से दो अभियुक्तों के द्वारा 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई थी. इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. इनके पास से पुलिस ने एक मोबाइल फोन भी जब्त कर लिया है.

मेसेज के जरिए की रंगदारी की मांग
बताया जा रहा है कि 12 मई को बीरपुर थाना के अंतर्गत सहुरी ग्राम के रहने वाले रामजीवन साह के बेटे धीरज साह और उनके भाई संजय साह से अपराधियों ने मेसेज के माध्यम से 10 लाख की रंगदारी की मांग की थी. साथ ही साथ रंगदारी नहीं देने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी. इस पूरे मामले की जानकारी व्यवसायी ने पुलिस अधिकारियों को दी. जिसके बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए बेगूसराय के एसपी ने अनुमंडल पुलिस अधिकारी सदर अमित कुमार के नेतृत्व में एक विशेष दल का गठन किया गया. जिसमें बीरपुर के थाना अध्यक्ष अमरेंद्र कुमार, पुलिस पदाधिकारी रंजन कुमार ठाकुर और चीता बल को भी शामिल किया गया है.
दो अपराधियों को किया गिरफ्तार
तकनीकी अनुसंधान के आधार पर पुलिस द्वारा तुरंत कार्रवाई करते हुए रंगदारी की मांग करने वाले दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अभियुक्त से जांच में पाया गया कि वह सॉरी गांव के एक ग्रामीण की हत्या करने की भी योजना बना रहे थे. जिसे समय पर पुलिस के द्वारा टाल दिया गया है. गठित टीम के द्वारा तुरंत कार्रवाई करते हुए अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार अपराधियों में बीरपुर थाना क्षेत्र के सहुरी वार्ड नंबर 3 के रहने वाले अखलू साह के पुत्र लक्ष्मण साह और मुजफ्फरपुर जिला के मोतीपुर थाना क्षेत्र के झींगहा गांव के रहने वाले मोहम्मद रफीक के पुत्र सलमान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार लक्ष्मण साह और सलमान पेशे से मजदूर है और दोनों बैंगलोर में एक साथ काम करते थे. वहीं जानकारी के मुताबिक बताया गया कि लक्ष्मण साह, संजय साह और धीरज साह का रिश्ते में चचेरा भाई लगता है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta