आंध्र प्रदेश

3 राजधानियों को लेकर मतभेद, भाजपा ने अमरावती को सिंगल राजधानी के रूप में समर्थन का किया प्रस्ताव पारित

Kunti Dhruw
21 Nov 2021 8:07 AM GMT
3 राजधानियों को लेकर मतभेद, भाजपा ने अमरावती को सिंगल राजधानी के रूप में समर्थन का किया प्रस्ताव पारित
x
आंध्र प्रदेश में तीन राजधानियों को लेकर सियासी दलों के बीच मतभेद उभरकर सामने आ रहे हैं.

आंध्र प्रदेश में तीन राजधानियों को लेकर सियासी दलों के बीच मतभेद उभरकर सामने आ रहे हैं. बीजेपी ने अमरावती को एकल राजधानी के रुप में समर्थन देने का मन बनाया है. आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा पहुंचने के बाद बीजेपी सांसद वाईएस चौधरी ने कहा कि हमने बीजेपी की ओर से अमरावती को एकल राजधानी के रूप में समर्थन देने का प्रस्ताव पारित किया है. उन्होंने कहा कि अमरावती को एक विकास इंजन के रूप में तय किया गया था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इसकी आधारशिला रखी थी.

राजधानी अमरावती को लेकर बीजेपी आक्रामक
आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा पहुंचने के बाद बीजेपी सांसद वाईएस चौधरी ने कहा कि अमरावती को एकल राजधानी के रूप में समर्थन देने का प्रस्ताव पारित किया गया है. आंध्र प्रदेश की वाईएसआरसीपी सरकार ने राजधानी को तीन भागों में विभाजित करना शुरू कर दिया है जबकि ऐसा करने का सरकार के पास कोई अधिकार नहीं है. बीजेपी सांसद ने कहा कि राजधानी अमरावती के विकास के लिए अपनी जमीन देने वाले स्थानीय किसानों का हम समर्थन करेंगे ताकि राजधानी अमरावती में ही बनी रहे.

गौरतलब है कि तीन राजधानी वाले विधेयक को आंध्र प्रदेश विधानसभा से मंजूरी के बाद आंध्र प्रदेश की अब अमरावती, विशाखापत्तनम और कुर्नूल तीन राजधानियां होंगी. विशाखापट्टनम को कार्यकारी राजधानी, अमरावती विधायी राजधानी जबकि कुर्नूल को न्यायिक राजधानी बनाने की बात की गई है. हालांकि तीन राजधानियों को लेकर विरोध अभी भी जारी है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta