Top
लाइफ स्टाइल

गर्दन में कालापन होने के है मुख्य 2 कारण, एक्सपर्ट्स से जानें बचने के उपाय

Rani Sahu
24 Jun 2021 2:36 PM GMT
गर्दन में कालापन होने के  है मुख्य 2 कारण, एक्सपर्ट्स से जानें बचने के उपाय
x
कई बार गर्दन का रंग बेहद ही काला पड़ने लगते हैं

कई बार गर्दन का रंग बेहद ही काला पड़ने लगते हैं। ऐसे में चेहरे व गर्दन का रंग एक समान होने से ब्यूटी पर दाग की तरह महसूस होता है। अक्सर कई लोग इसे मैल समझ कर जोर से रगड़ कर साफ करने लगते हैं। मगर इससे यह और भी काली व खराब होने लगती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, गर्दन का कालापन होने के पीछे 2 अलग-अलग कारण होते हैं। चलिए आज हम आपको इसके होने के कारण व बचने के उपाय बताते हैं।

गर्दन का कालापन होने के 2 मुख्य कारण
1. मैडिकल यानी शारीरिक कारण
- डॉक्टर्स के अनुसार, गर्दन का कालापन होने के पीछे का कारण अकान्थोसिस निग्रिकान्य (Acanthosis Nigricans) हो सकता है। इससे गर्दन का रंग काला होने के साथ मोटी होने लगती है। इसके अलावा त्वचा के फोल्ड होने की परेशानी भी हो सकती है। इसके कारण त्वचा में जलन, खुजली और पसीना में बदबू आने की परेशानी भी होती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, 40 से 60 साल की उम्र के लोगों में यह समस्या करीब 60 से 74 प्रतिशत तक होती है। इसके पीछे का सबसे पड़ा कारण मोटापा माना गया है। इसके अलावा यह समस्या जैनेटिक यानी अनुवांशिक भी हो सकता है। ज्यादातर गर्दन काली होने की परेशानी लोगों को डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, थायरॉयड के कारण हो सकती है। साथ ही यह समस्या पुरुषों के मुकाबले में औरतों को ज्यादा होती है।
फ्रीजिकल यानी बाहरी कारण
- गर्दन का रंग काला पड़ने का दूसरा बड़ा कारण तेज धूप के संपर्क में आना माना गया है।
- अलावा गले में चैन पहनने से यह पसीने के संपर्क में आने से गर्दन का रंग काला करने लगता है।
- गर्दन पर पाउडर, क्रीम, सेंट आदि लगाना
- नहाते समय गर्दन को जोर-जोर से रगड़ना
- कैमिकलयुक्त हेयर डाई का इस्तेमाल करना
मगर इन कारणों से स्किन का रंग केवल काला पड़ता है। खासतौर पर गर्दन के पीछे का रंग। इसके अलावा त्वचा रूखी होने लगती है।
चलिए अब जानते हैं इससे छुटकारा पाने के उपाय
अकान्थोसिस निग्रिकान्य (Acanthosis Nigricans) को ठीक करने के लिए
- इसके लिए सबसे पहले अपने वजन को कंट्रोल करें। इसके लिए आप डाइटिंग, एक्सरसाइज का सहारा ले सकती है।
- जो लोग डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, थायराइड आदि बीमारियों से परेशान है तो अपनी बीमारी को कंट्रोल रखें। Brevoxyl Cream Wash से गर्दन को धोकर नारियल का तेल लगाएं। आप नारियल तेल में विटामिन ई तेल भी मिलाकर लगा सकती है।
- सोने से पहले Tretinoin Cream U.S.P Retino- A 0.02%, Tretinooin Cream U.S.P Retino 0.05% इन दोनों में से किसी क्रीम को थोड़ी सी मात्रा में लेकर हल्के हाथों से गर्दन पर लगाएं।
इनमें से किसी भी चीज का इस्तेमाल करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
गर्दन का कालापन दूर करने के लिए
- गर्दन पर खूबशू वाला पाउडर, सेंट, लोशन आदि लगाने से बचें।
- कैमिकल की जगह पर नैचुरल हेयर डाई यूज करें।
- सनटैन से काली पड़ी स्किन पर खट्टी दही में 1 छोटा चम्मच हल्दी मिलाकर गर्दन पर हल्के हाथों से लगाएं। 30 मिनट तक लगा रहने दें। बाद में ताजे पानी से साफ करके इसपर नारियल तेल व विटामिन ई मिलाकर लगाएं।
- कुछ दिनों तक घर से निकलने से पहले गर्दन को ढककर निकले। ताकि गर्दन तेज धूप के संपर्क में आने से सुरक्षित रहे।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it