लाइफ स्टाइल

गर्मियों में बढ़ जाती है त्वचा में खुजली-जलन की समस्या तो अपनाएं ये उपाय

Mahima Marko
23 April 2022 5:59 AM GMT
गर्मियों में बढ़ जाती है त्वचा में खुजली-जलन की समस्या तो अपनाएं ये उपाय
x

गर्मियों में बढ़ जाती है त्वचा में खुजली-जलन की समस्या तो अपनाएं ये उपाय

देश के ज्यादातर हिस्सों में इस समय गर्मी का प्रकोप जारी है। कुछ मौसमी फल और सब्जियां जहां इस मौसम को काफी पसंदीदा बनाते हैं,

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। देश के ज्यादातर हिस्सों में इस समय गर्मी का प्रकोप जारी है। कुछ मौसमी फल और सब्जियां जहां इस मौसम को काफी पसंदीदा बनाते हैं, वहीं तेज धूप और गर्मी के कारण कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं बढ़ जाती हैं। यदि आप भी गर्मी के दिनों में अक्सर बाहर रहते हैं तो अपने शरीर और सेहत का विशेष ख्याल रखें। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक गर्मी के इस मौसम में त्वचा से संबंधित कई तरह की परेशानियां बढ़ जाती हैं, जिनपर अगर समय रहते ध्यान न दिया जाए तो इससे बड़ी दिक्कत होने की खतरा हो सकता है। बाहर निकलते समय हमेशा पूरी आस्तीन के कपड़े पहनें और सिर को ढककर रखें।

विशेषज्ञ बताते हैं, गर्मी के मौसम में तेज धूप और पसीने के कारण त्वचा में लालिमा, जलन, दाने और खुजली की समस्या होना काफी सामान्य है। इतना ही नहीं अध्ययन बताते हैं कि तेज धूप के संपर्क में रहने वाले लोगों में त्वचा कैंसर का खतरा भी अधिक हो सकता है, ऐसे में अपने त्वचा की देखभाल जरूर सुनिश्चित करें। आइए जानते हैं कि प्राय: इस मौसम में त्वचा से संबंधित किस तरह की समस्याओं का खतरा अधिक होता है, साथ ही इनसे बचाव के लिए क्या किया जा सकता है?
सनबर्न की दिक्कत
सनबर्न या धूप के कारण त्वचा में होने वाली समस्याएं गर्मियों में सबसे आम हैं। इसके कारण त्वचा में दर्द, लालिमा और जलन जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। इससे बचाव के लिए सभी लोगों को पूरी आस्तीन के कपड़े पहनने और सनस्क्रीन लगाने की सलाह दी जाती है। अपनी त्वचा को सुरक्षित रखने के लिए बाहर जाते समय सनस्क्रीन क्रीम लगाएं और त्वचा को सीधे धूप के संपर्क से बचाकर रखने की कोशिश करें।
मुंहासों की समस्या
गर्मी में अधिक तापमान के कारण पसीना ज्यादा निकलता है। पसीना, जब आपकी त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया या तेल के संपर्क में आता है तो यह आपके रोमछिद्रों को बंद कर सकता है। गर्मी के दिनों में मुंहासे की समस्या होना भी आम है। इससे बचाव के लिए चेहरे को थोड़ी-थोड़ी देर पर साफ ठंडे पानी से धोते रहें, साफ तौलिए या कपड़े से पसीना पोछें। पसीना से भीगे कपड़े, हेडबैंड, तौलिया और टोपियों को दोबारा पहनने से पहले धो लें। चेहरे, गर्दन, पीठ और छाती पर गैर-कॉमेडोजेनिक उत्पादों का प्रयोग करें।
खुजली और जलन की समस्या
गर्मी में हीट रैश की समस्या भी अक्सर लोगों को परेशान करती है। जब पसीने की ग्रंथियां बंद हो जाती हैं, तो यह शरीर से बाहर नहीं निकल पाता है। त्वचा के नीचे जमा होने कारण छोटे दाने या रैशेज की समस्या हो सकती है। हीट रैशेज से बचने के लिए ठंडे, ढीले-ढाले कपड़े पहनें और यदि आपको पसीना आता है, तो अपनी त्वचा की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। शरीर के तापमान को कम करने के लिए, ठंडे पानी से स्नान करें।
एक्जिमा की दिक्कत
एक्जिमा एक क्रोनिक समस्या है जिसके कारण त्वचा में खुजली, लालिमा या पैच विकसित हो जाते हैं। गर्मी का मौसम एक्जिमा को बढ़ावा देने का कारण माना जाता है। तापमान बढ़ने के कारण त्वचा में जलन पैदा हो सकती है। एक्जिमा के जोखिम को कम करने के लिए, शरीर का सामान्य तापमान बनाए रखने का प्रयास करें। पसीने को नियमित रूप से साफ पानी से धोएं। साफ कपड़े पहनें।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta