लाइफ स्टाइल

फिजिकल एक्टिविटी स्वास्थ्य के बेहद फायदेमंद है, जानें अन्य फायदों के बारे में

Tulsi Rao
15 Sep 2021 9:28 AM GMT
फिजिकल एक्टिविटी स्वास्थ्य के बेहद फायदेमंद है, जानें अन्य फायदों के बारे में
x
व्यायाम के फौरन और लंबे समय तक फायदे मिल सकते हैं. सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण, नियमित व्यायाम आपकी जिंदगी की क्वालिटी को सुधार सकता है

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। Exercise Benefits: फिजिकल एक्टिविटी या व्यायाम आपकी सेहत को ठीक कर सकता है और कई बीमारियों जैसे टाइप 2 डायबिटीज, कैंसर और कार्डियोवैस्कुलर रोग के जोखिम को कम कर सकता है. व्यायाम के फौरन और लंबे समय तक फायदे मिल सकते हैं. सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण, नियमित व्यायाम आपकी जिंदगी की क्वालिटी को सुधार सकता है. व्यायाम से एंडोर्फिन जारी होता है जो चिंता और तनाव को कम करने में फायदा पहुंचाता है, इस तरह खुशी को बढ़ावा मिलता है. जानिए व्यायाम के कुछ फायदे जो आपको अच्छा महसूस करने में मदद कर सकता है.

ये आत्मविश्वासी महसूस कराता है- सप्ताह में एक या दो बार व्यायाम आपको कभी नहीं व्यायाम करनेवालों के मुकाबले बहुत ज्यादा हेल्दी और खुश महसूस करा सकता है. रोजाना 10 मिनट का व्यायाम आपके मूड को ठीक कर सकता है और चिंता, तनाव, बेचैनी की भावना से मुक्त करता है. रोजाना का व्यायाम दिमाग के कुछ हिस्सों में काफी बदलाव हासिल करने में मदद करता है और चिंता और टेंशन के लेवल को काबू करता है.
ऊर्जा लेवल बढ़ाता है- रोजाना का व्यायाम अक्सर लोगों को ज्यादा एक्टिव महसूस कराता है. निरंतर व्यायाम आपके मसल और हड्डियों की हालत को सुधारता है, जो बेहतर फिटनेस में इजाफा करता है. उसके अलावा, रोजाना व्यायाम दर्द को भी दूर कर सकता है.
स्किन ज्यादा हेल्दी दिखाई देगी- तनाव कारण होता है जो आपकी स्किन को ज्यादा संवेदनशील और रिएक्टिव बनाता है. व्यायाम प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट्स के उत्पादन को बढ़ाता है जो आपकी स्किन को फायदा पहुंचाता है. ये ब्लड फ्लो को प्रेरित करता है और इस तरह आपकी स्किन की चमक को सुधारता है और स्किन की उम्र बढ़ने को रोकने में मदद करता है.
दिमाग की सेहत और याद्दाश्त को सुधारता है- व्यायाम से हृदय गति बढ़ता है क्योंकि ये ब्लड फ्लो और ऑक्सीडन पर निर्भर करता है. इसके नतीजे में दिमाग की सेल्स का विकास होता है और सोचने की क्षमता में सुधार होता है. नियमित व्यायाम डिप्रेशन और तनाव के लक्षणों को काबू करने में मदद करता है. हालांकि, गंभीर मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं में ये काफी नहीं होगा, लेकिन डोपामाइन और सेरोटोनिन के लेवल को सुधार सकता है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it