लाइफ स्टाइल

सेहत और बालों के लिए ही नहीं त्वचा के लिए भी गुण कारी है सरसों का तेल

Mahima Marko
2 Sep 2022 6:29 AM GMT
सेहत और बालों के लिए ही नहीं त्वचा के लिए भी गुण कारी है सरसों का तेल
x
सरसों का तेल मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड का एक समृद्ध स्रोत है

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। सरसों का तेल मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड का एक समृद्ध स्रोत है और इसमें एंटी इन्फ्लेमेट्री (anti-inflammatory) गुण होते हैं। इसके अलावा, इसमें ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फैटी एसिड, शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद आवश्यक खनिज होते हैं।


आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है सरसों का तेल
सरसों के तेल के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। यह अन्य लाभों के अलावा हृदय, त्वचा, जोड़ों, मांसपेशियों से संबंधित बीमारियों के इलाज में मदद करने के लिए जाना जाता है। इस चमत्कारी तेल के कुछ निम्नलिखित हैं।

इस तेल का उपयोग एक स्वस्थ टॉनिक के रूप में किया जा सकता है। यह पूरे शरीर को लाभ प्रदान कर सकता है। सरसों के तेल के नियमित उपयोग से आपको दमकती और स्वस्थ त्वचा मिल सकती है ।

जानिए खाने के अलावा और किस तरह किया जा सकता है सरसों के तेल का इस्तेमाल
1 फटे होंठों को ठीक करने में मदद कर सकता है
शोधों के अनुसार यह माना जाता है कि फटे होंठों पर तेल लगाने से वे ठीक हो जाते हैं। कुछ लोगों का यह भी मानना ​​है कि सोने से पहले नाभि में तेल की कुछ बूंदें डालने से फटे होंठों को ठीक करने में मदद मिल सकती है।

सरसों के तेल में बेसन, एक चम्मच दही और नींबू के रस की कुछ बूंदों को मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं। ठंडे पानी से धोने से पहले इसे 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें। कुछ महीनों तक ऐसा हफ्ते में तीन बार करें। आपको कुछ अंतर नजर आ सकता है।

3 त्वचा की रंगत में सुधार कर सकते हैं
सरसों का तेल बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन से भरपूर होता है । ये विटामिन त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं ।

आप सरसों और नारियल के तेल को बराबर भाग में मिला सकते हैं । इस मिश्रण को अपनी त्वचा में हर रात 15 मिनट तक मालिश करें और फिर हल्के फेस वॉश से धो लें।

यदि आप इसे नियमित रूप से उपयोग करते हैं, तो आप अपनी त्वचा की टोन में सुधार देखना शुरू कर सकते हैं। यह झुर्रियों की शुरुआत में देरी करके उम्र बढ़ने के संकेतों को भी कम कर सकता है।

4 प्राकृतिक सनस्क्रीन (natural sunscreen) भी है
बाहर निकलने से पहले अपनी त्वचा पर सरसों के तेल की थोड़ी सी मात्रा में मालिश करें। तेल विटामिन ई से भरपूर होता है। पोषक तत्व आपकी त्वचा को हानिकारक यूवी किरणों और पर्यावरण विषाक्त पदार्थों से बचा सकता है।


5 चकत्ते और संक्रमण का इलाज कर सकते हैं
सरसों के तेल में शक्तिशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं। तेल त्वचा पर चकत्ते , एलर्जी और संक्रमण को ठीक करने में मदद कर सकता है। यह त्वचा के रूखेपन और खुजली को भी रोक सकता है।

6 एंटी-एजिंग प्रभाव हो सकता है
सरसों के तेल में विटामिन ई होता है। यह विटामिन झुर्रियों और समय से पहले बूढ़ा होने यानी एजिंग के अन्य लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta