लाइफ स्टाइल

अष्टमी और नवमी पर बनाएं भंडारे वाला सूजी का हलवा

Renuka Sahu
13 Oct 2021 6:02 AM GMT
अष्टमी और नवमी पर बनाएं भंडारे वाला सूजी का हलवा
x

फाइल फोटो 

ये भारतीय डेजर्ट बहुत लोकप्रिय है और लगभग हर त्योहार और अवसर के लिए बनाया जाता है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। ये भारतीय डेजर्ट बहुत लोकप्रिय है और लगभग हर त्योहार और अवसर के लिए बनाया जाता है. भारत के हर क्षेत्र में इस व्यंजन को बनाने का एक अनोखा तरीका है. सूजी, चीनी, घी, हरी इलायची का इस्तेमाल करके और बादाम से सजाकर तैयार की गई ये आसान रेसिपी शाम के नाश्ते के लिए या डेजर्ट के रूप में परोस सकते हैं.

कई त्योहारों के दौरान हलवा का भोग देवताओं को प्रसाद के रूप में लगाया जाता है. सूजी पोटैशियम, आयरन और प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है और हृदय रोगों को कम करने में मदद करता है. अपने परिवार और दोस्तों के लिए ये हलवा परोसे और इसका आनंद लें.
सूजी हलवा की सामग्री
सूजी – 2 कप
घी – 1 कप
आवश्यकता अनुसार पानी
चीनी – 2 कप
पिसी हुई हरी इलायची – 1/2 टेबल स्पून
गार्निश करने के लिए
कटे हुए बादाम 1 बड़ा चम्मच
सूजी का हलवा बनाने की विधि
स्टेप – 1 सूजी को घी में पकाएं
इस रेसिपी को बनाने के लिए सबसे पहले एक पैन को धीमी आंच पर रखें और इसमें घी डालें. जब घी पूरी तरह से पिघल जाए तो सूजी डालकर हल्का ब्राउन होने तक भूनें.
स्टेप – 2 चीनी की चाशनी तैयार करें
इस बीच, धीमी आंच पर एक और पैन गरम करें. इसमें पानी डालकर उबाल आने दें. जब ये उबलने लगे तो चीनी डालें और अच्छी तरह मिलाएं.
स्टेप – 3 सूजी और चीनी की चाशनी मिलाएं और सूखे मेवों से गार्निश करें
सूजी हल्का ब्राउन होने पर इसमें हरी इलायची पाउडर और चीनी का घोल डाल दीजिए. सूजी के मिश्रण के साथ अच्छी तरह मिलाने तक अच्छी तरह मिलाएं. इसके बाद सूखे मेवों से गार्निश करें और गर्मागर्म परोसें.
सूजी में पोषक तत्व
सूजी वजन घटाने में मदद करता है. इसमें फाइबर होता है. ये वजन घटाने में मदद करता है. डायबिटीज के जोखिम को कम करने में भी सूजी मदद कर सकती है. एक अध्ययन के अनुसार डाईट्री फाइबर की बढ़ी हुई मात्रा ग्लाइसेमिक में सुधार करने का काम करती है. शरीर में आयरन की कमी एनीमिया का कारण बन सकती है. सूजी में आयरन भरपूर होता है.
ये एनीमिया के खतरे को कम करने में मदद करता है. सूजी में जिंक, मैग्नेशियम, विटामिन-बी6 आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं. ये हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं. कोलेस्ट्रॉल के बेहतर संतुलन के लिए आप सूजी का सेवन कर सकते हैं. इसमें नियासिन होता है. ये कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करने में मदद करता है. सूजी-ऑक्सीडेंट की तरह काम करती है. इसमें मौजूद सेलेनियम नामक पोषक तत्व कैंसर को रोक सकता है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it