लाइफ स्टाइल

हाथ की रेखाओं से जानें विदेश यात्रा के योग

Bharti sahu
27 Jun 2022 5:36 PM GMT
हाथ की रेखाओं से जानें विदेश यात्रा के योग
x
हस्‍तरेखा शास्‍त्र में कुछ ऐसी स्थितियों के बारे में बताया गया है,

हस्‍तरेखा शास्‍त्र में कुछ ऐसी स्थितियों के बारे में बताया गया है, जो विदेश यात्रा के बारे में बताया गया है. हाथ की ये रेखाएं बताती हैं कि व्‍यक्ति विदेश यात्रा पर जा पाएगा या नहीं. यदि व्‍यक्ति विदेश यात्रा पर जाएगा तो कितनी बार वो ऐसी लंबी यात्राएं करेगा. इतना ही नहीं यह भी जाना जा सकता है कि व्‍यक्ति विदेश में कुछ साल रहकर वापस आएगा या उसकी मृत्‍यु भी विदेश में ही होगी.

हाथ की रेखाओं से जानें विदेश यात्रा के योग
- हस्तरेखा शास्‍त्र के अनुसार यदि कोई रेखा चंद्र पर्वत से निकलकर भाग्य रेखा को काटते हुए जीवन रेखा से जाकर मिल जाए. तब ऐसा व्यक्ति कई देशों की यात्रा करता है.
- यदि जीवन रेखा घूमकर चंद्र पर्वत पर पहुंच जाए तो वह जातक दुनिया के के कोने-कोने में घूमकर आता है. यहां तक कि उसकी मृत्‍यु भी उसके जन्‍मस्‍थान से बहुत दूर होती है.
- यदि कोई रेखा मणिबंध से निकलकर मंगल पर्वत की ओर जाए तो ऐसा व्यक्ति ढेर सारी समुद्री यात्राएं करता है. ऐसे लोगों के नेवी आद‍ि में होने की संभावना ज्‍यादा होती है.
- यदि पहले मणिबंध से ऊपर कोई रेखा चंद्र पर्वत तक जाए तो ऐसे लोगों की हर यात्रा सफल होती है. वे यात्राओं से खूब पैसा कमाते हैं.
- यदि जातक के दाहिने हाथ में तो विदेश यात्रा करने की रेखाएं हों लेकिन बायें हाथ में न हों तो ऐसे लोगों के जीवन में विदेश यात्रा के योग तो बनते हैं लेकिन वे टल जाते हैं.
- यदि यात्रा रेखा कटी-फटी हो तो ऐसे लोगों के साथ यात्रा के दौरान कोई दुर्घटना होने के योग रहते हैं. यदि यात्रा रेखा पर कोई क्रॉस हो तो दुर्घटना होने की आशंका रहती है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta