लाइफ स्टाइल

बारिश के मौसम में बच्‍चों की इम्‍यूनिटी को बढ़ाने के लिए जानें बचाव

Kunti Dhruw
21 July 2021 9:51 AM GMT
बारिश के मौसम में बच्‍चों की इम्‍यूनिटी को बढ़ाने के लिए जानें बचाव
x
मॉनसून का मौसम बहुत सुहावना होता है और इस समय ज्‍यादा लोगों को चाय के साथ पकौड़े खाना पसंद होता है।

मॉनसून का मौसम बहुत सुहावना होता है और इस समय ज्‍यादा लोगों को चाय के साथ पकौड़े खाना पसंद होता है। माना कि ये समय एक अच्‍छी फीलिंग देता है लेकिन इस मौसम में बच्‍चों के बीमार पड़ने का खतरा भी रहता है।

चिलचिलाती गर्मी से मॉनसून की बारिश मन को ठंडक देती है लेकिन इस मौसम में इंफेक्‍शन का खतरा भी बढ़ जाता है।
वहीं इस समय कोरोना का खतरा भी मंडरा रहा है और कोरोना की तीसरी लहर बच्‍चों पर भारी पड़ सकती है। ऐसे में आपको बच्‍चों के इम्यून सिस्‍टम को मजबूत करने पर काम करना चाहिए।
​मॉनसून की बीमारियां
मॉनसून अपने साथ कई तरह की बीमारियां लेकर आता है जो वयस्‍कों से ज्‍यादा बच्‍चों और बुजुर्गों को प्रभावित करती हैं। मौसम में बदलाव का असर इम्‍यून सिस्‍टमपर भी पड़ सकता है। कुछ पैथोजीन बारिश के मौसम में फैलते हैं जिससे इंफेक्‍शन का खतरा बढ़ जाता है।
यहां हम आपको कुछ ऐसी बीमारियों के बारे में बता रहे हैं जो इस मौसम में ज्‍यादा फैलती हैं, साथ ही आपको इससे बचने के उपायों के बारे में भी बता रहे हैं।
​डेंगू का कहर
मॉनसून में मच्‍छर जनित बीमारियों में सबसे ज्‍यादा डेंगू ही फैलता है। इसके अलावा मलेरिया और चिकनगुनिया भी होता है। डेंगू में तेज बुखार, रैशेज, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द और अन्‍य तरह की परेशानियां होती हैं।
इसलिए मॉनसून के दौरान मच्‍छरों से बचना जरूरी है। अपने घर में मच्‍छर मारने की दवा डालते रहें और बच्‍चों को खासतौर पर शाम के समय पूरी बाजू के कपड़े पहनाकर रखें।
​टायफाइड
मॉनसून में यह बीमारी भी बहुत होती है। गंदे पानी और खाने की वजह से यह बीमारी होती है। इसकी वजह से बुखार, पेट दर्द, दस्‍त और अन्‍य लक्षण सामने आते हैं। गंदे पानी की वजह से कई बीमारियां फैलती हैं जैसे कि हेपेटाइटिस, दस्‍त और कीड़े होना।
मॉनसून में साफ पानी पिएं, साफ खाना खाएं, सब्जियों को अच्‍छी तरह से धोकर पकाएं, स्‍ट्रीट फूड खाने से बचें और खाना खाने से पहले और बाद में हाथों को धोएं।
​फंगल इंफेक्‍शन
वातावरण में मौजूद नमी की वजह से फंगल इंफेक्‍शन होता है। आपसे परिवार के अन्‍य सदस्‍यों को भी यह बीमारी हो सकती है। इससे बचने के लिए साफ-सफाई का ध्‍यान रखें, हाथ, पैरों, तलवों, अंडरआर्म्‍स में ज्‍यादा पसीना न आने दें। दूसरों के साथ अपना तौलिया शेयर न करें।
​सर्दी-जुकाम
मॉनसून में सबसे ज्‍यादा जो बीमारी होती है, वो है सर्दी-जुकाम। इसकी वजह से थकान, बुखार और बदन दर्द हो जाता है। यह एक संक्रामक बीमारी है जो एक इंसान से दूसरे को फैल सकती है।
इससे बचने के लिए थोड़ी-थोड़ी देर में हाथ धोते रहें, कॉमन हाइजीन प्रोडक्‍ट्स का इस्‍तेमाल करने से बचें, छींकते या खांसते समय मुंह पर हाथ लगाएं और खूब पानी एवं तरल पदार्थ पिएं।
​कुछ अन्‍य बचाव के तरीके
मॉनसून में निम्‍न टिप्‍स को फॉलो कर बच्‍चों को हेल्‍दी रखा जा सकता है :
बच्‍चों को पूरी बाजू के कपड़े पहनाकर रखें।
संतुलित आहार लें।
स्‍ट्रीट फूड और जंक फूड खाने से बचें।
साफ पानी पिएं और तरल पदार्थ लेते रहें।
अगर ठीक महसूस नहीं हो रहा है, तो मास्‍क लगाकर रखें।
खाना बनाने से पहले हाथ जरूर धोएं।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta