Top
लाइफ स्टाइल

इन घरेलू उपचार से दूर करें सर्दी – जुकाम, खांसी

Gulabi
1 July 2021 2:17 PM GMT
इन घरेलू उपचार से दूर करें सर्दी – जुकाम, खांसी
x
कई बार मौसम में बदलाव होने पर गले में खराश, खांसी, जुकाम और बुखार होने का खतरा रहता है

कई बार मौसम में बदलाव होने पर गले में खराश, खांसी, जुकाम और बुखार होने का खतरा रहता है. ये वायरल इन्फेक्शन, बैक्टीरियल या ठंड के कारण हो सकता है. हमारी रसोई में ऐसे कई ऐसे घरेलू नुस्खे होते हैं. जिनके जरिए हम खांसी-जुकाम जैसी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं. सर्दी, फ्लू और गले में खराश को रोकने के लिए आप कौन से घरेलू नुस्खे अपना सकते हैं आइए जानें.

मेथी के बीज – मेथी के बीज में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं. मेथी का पानी सर्दी जुकाम या वायरल जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में फायदेमंद है. इसके लिए आप मेथी के पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं. ये पानी शरीर के हानिकारक बैक्टिरया को खत्म करने में मदद करता है. ये संक्रामक रोगों से बचाव करता है. इसके लिए आपको एक बड़े चम्मच मेथी के दानों को पानी में उबालना है. इसका सेवन आप नियमित रूप से कर सकते हैं.
तुलसी की चाय – तुलसी के पत्ते बलगम को कम करने में कारगर हो सकते हैं. आप ताजी तुलसी की पत्तियां ले सकते हैं या फिर सूखे पत्ते ले सकते हैं. आप तुलसी के ताजे पत्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं. सूखे तुलसी के पत्तों के रूप में, एक बड़ा चम्मच भी पर्याप्त हो सकता है. इन्हें इलायची की एक या दो कलियों के साथ पानी में डालकर उबाल लें. इसे मीठा करने के लिए इसमें शहद मिलाएं. फेफड़ों की कई समस्याओं को दूर करने के लिए तुलसी की चाय फायदेमंद हो सकती है.
नट्स – रात भर भीगे हुए बादाम का सेवन कर सकते हैं. ये आपके फेफड़ों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है.
सौंफ के बीज – सौंफ रसोई की एक आम सामग्री है. इसके लिए एक चम्मच सौंफ को पानी में उबालकर आधा कर लें. इसके बाद इसका सेवन करें. इससे गले की खराश और खांसी में आराम मिलेगा.
हल्दी के दूध का सेवन – हल्दी एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज, एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल प्रॉपर्टीज होती है. ये इन्फेक्शन से लड़ती हैं. सर्दी, खांसी और जुकाम से राहत पाने के लिए आप हल्दी वाले दूध का सेवन कर सकते हैं.
गर्म पानी और नमक के गरारे – इसके लिए आपको गर्म पानी में नमक मिलाकर गरारे करने होंगे. इससे गले को राहत मिलती है. इसके अलावा खांसी में आराम मिलता है.
चाय – आप इन सभी सामग्रियों को एक साथ मिला भी सकते हैं. मेथी के बीज, तुलसी के पत्ते, इलायची, सौंफ और शहद या गुड़ से बनी चाय का सेवन भी कर सकते हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it