मनोरंजन

बॉलीवुड के सितारों ने भोजपुरी फिल्मों से क्यों बना ली दूरी, वजह जान रह जाएंगे हैरान

Subhi
4 April 2022 2:37 AM GMT
बॉलीवुड के सितारों ने भोजपुरी फिल्मों से क्यों बना ली दूरी, वजह जान रह जाएंगे हैरान
x
भारत में जब भी फिल्म इंडस्ट्री की बात होती है तो ज्यादातर लोगों के मन में दो ही नाम आते हैं। पहला बॉलीवुड और दूसरा साउथ इंडस्ट्री। हालांकि एक और फिल्म इंडस्ट्री है जो काफी मशहूर है और उसका फैन बेस भी बहुत बड़ा है।

भारत में जब भी फिल्म इंडस्ट्री की बात होती है तो ज्यादातर लोगों के मन में दो ही नाम आते हैं। पहला बॉलीवुड और दूसरा साउथ इंडस्ट्री। हालांकि एक और फिल्म इंडस्ट्री है जो काफी मशहूर है और उसका फैन बेस भी बहुत बड़ा है। हम बात कर रहे हैं भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री की। भोजपुरी फिल्मों का क्रेज यूपी-बिहार के लोगों में बहुत अधिक होता है। अपने पसंदीदा कलाकारों की फिल्मों का लोग बेसब्री से इंतजार करते हैं। इसी जबरदस्त फैन फॉलोइंग को देखकर बॉलीवुड के कई बड़े एक्टर भोजपुरी सिनेमा का रुख कर चुके हैं, लेकिन एक समय के बाद इन कलाकारों ने भोजपुरी इंडस्ट्री से दूरी बना ली। आज हम आपको बताएंगे कि कौन से बॉलीवुड के सितारे भोजपुरी फिल्मों में नजर आए और क्यों एक वक्त के बाद वह इस इंडस्ट्री से दूर चले गए।

फिल्म देस परदेस में कई बॉलीवुड चेहरे नजर आए थे। बॉलीवुड के मशहूर एक्टर धर्मेंद्र ने इस फिल्म में अहम भूमिका निभाई थी। फिल्म में उनके अलावा कादर खान और रति अग्निहोत्री ने भी काम किया था। फिल्म का निर्देशन विमल कुमार ने किया था। इस फिल्म के बाद धर्मेंद्र दोबारा कभी भोजपुरी फिल्मों में नहीं दिखे।

फिल्म धरती कहे पुकार के से सुपरस्टार अजय देवगन ने भोजपुरी सिनेमा में डेब्यू किया था। फ़िल्म में उन्होंने एक पुलिस इंस्पेक्टर का किरदार निभाया था। फिल्म में मनोज तिवारी भी नज़र आए थे। हालांकि यह फिल्म अजय देवगन की पहली और आखिरी भोजपुरी फिल्म बनकर रह गई।

बॉलीवुड एक्टर मिथुन चक्रवर्ती भी भोजपुरी फिल्म में नजर आ चुके हैं। उन्होंने भोले शंकर नाम की भोजपुरी फिल्म में काम किया था। इस फिल्म का निर्देशन पंकज शुक्ल ने किया था।

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन कई भोजपुरी फिल्म में काम कर चुके हैं। उन्होंने गंगा, गंगोत्री, और गंगा देवी में मुख्य भूमिका निभाई है, लेकिन एक समय के बाद उन्होंने भी इस इंडस्ट्री से दूरी बना ली।

भोजपुरी सिनेमा की शुरुआत का श्रेय नजीर हुसैन को जाता है। उन्होंने ही सबसे पहली भोजपुरी फिल्म गंगा मइया तोहे पियरी चढ़इबो बनाई थी। साल 1963 में बनी इस फिल्म ने इतिहास रच दिया था। इसके बाद कई भोजपुरी फिल्में बनीं। साल 2000 के बाद से भोजपुरी सिनेमा के दर्शकों में बड़ा इजाफा देखने को मिला। इस दौरान सइयां हमार और ससुरा बड़ा पैसा वाला जैसी फिल्में इतनी जबरदस्त हिट रहीं कि बॉलीवुड के सितारे भी इस इंडस्ट्री की ओर आकर्षित होने लगे। बाद में कई बॉलीवुड स्टार्स ने भोजपुरी फिल्मों में काम किया, लेकिन यह इंडस्ट्री उन्हें रास नहीं आई।

बताया जाता है कि उनके भोजपुरी फिल्में न करने के कई कारण हैं। इनमें दो वजह मुख्य हैं। कहा जाता है कि भोजपुरी सिनेमा में कलाकारों को फीस देने का तरीका पारदर्शी नहीं है। वितरक फिल्म में काम करने वाले एक्टर्स को उनकी पूरी फीस नहीं देते। कई फिल्मों के निर्माता/निर्देशक अपनी पहचान से हिंदी सिनेमा के सुपरस्टार्स को भोजपुरी सिनेमा में लेकर आए, लेकिन भोजपुरी सिनेमा के कारोबार का जो तरीका है, वह बहुत अस्पष्ट है। इसी के चलते बड़े सितारों ने अब भोजपुरी में काम करना ही बंद कर दिया है। दूसरा कारण भोजपुरी अब कुछ कुछ सेमी पोर्न होता जा रहा है, इसके चलते इसकी ब्रांड वैल्यू भी बहुत खराब होती जा रही है। इन्हीं कारणों की वजह से भोजपुरी सिनेमा में बॉलीवुड के सितारे लंबे समय से नजर नहीं आए हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta