मनोरंजन

भारत 'कंट्री ऑफ ऑनर' से होगा सम्मानित, भारतीय कला संस्कृति की दिखेगी झलक

Renuka Sahu
18 May 2022 1:52 AM GMT
India will be honored with Country of Honour, a glimpse of Indian art culture will be seen
x

फाइल फोटो 

फिल्म जगत के सबसे पुरानें महोत्सवों में से एक कान्स फिल्म फेस्टिवल के 75वें संस्करण का आगाज हो चुका है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। फिल्म जगत के सबसे पुरानें महोत्सवों में से एक कान्स फिल्म फेस्टिवल (Cannes film festival 2022) के 75वें संस्करण का आगाज हो चुका है. 17 मई से 28 मई तक ये फिल्म फेस्टिवल चलने वाला है. 2022 का कान्स फिल्म फेस्टिवल, कई मायनों में भारत के लिए अहम होने वाला है, पहली बार भारत 'कंट्री ऑफ ऑनर' (Country of honour) के रूप में शामिल होगा. इसी साल से कान्स फिल्म फेस्टिवल में कंट्री ऑफ ऑनर की परंपरा शुरु हुई है. यह सम्मान उस समय मिल रहा है जब फ्रांस और भारत अपने कूटनीतिक संबंधों के 75 साल पूरे कर रहे हैं. इस बार यहां भारतीय कला संस्कृति की भी झलक दिखेगी.

75वें कान्स फिल्म फेस्टिवल (Cannes 2022) में भारत के कई नामी चेहरें नजर आने वाले हैं. दीपिका पादुकोण इस बार कान्स फिल्म फेस्टिव 2022 की जूरी का हिस्सा हैं. ए.आर. रहमान, शेखर कपूर, रिकी केज कॉन्स रेड कार्पेट पर चलने वाली हस्तियों में शामिल हैं. इनके अलावा नवाजुद्दीन सिद्दीकी, प्रसून जोशी और केन्द्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर कान्स में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे, जो वहां पहुंच चुके हैं.
फ्रांस में होने वाले कान्स फिल्म फेस्टिवल में दुन‍ियाभर की चुन‍िंदा फिल्मों और डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग की जाती है. बेस्ट फिल्म और कलाकारों को सम्मानित किया जाता है. कान्स फिल्म फेस्टिवल में कुल छह भारतीय भाषाओं की फिल्मों को प्रदर्शित किया जाएगा. इनमें से एक फिल्म 'रॉकेट्री -द नांबी इफेक्ट', अल्फा, बीटा, गामा, धुइन, गोदावरी, ट्री फुल ऑफ पैरेट्स, बूमबा राइड फिल्में शामिल है. 22 मई को भारत को समर्पित हॉल में देश की अनरिलीज्ड फिल्मों की स्क्रीनिंग की जाएगी.
इस दौरान एआर रहमान ने कहा कि खुद को खुशनसीब मानता हूं कि मैं इस बार कान्स का हिस्सा बना. कान्स में मेरी पहली डायरेक्टोरियल फिल्म प्रीमियर होगी, जिसे लेकर मैं बेह एक्साइटेड हूं.
PROMOTED CONTENT
वहीं, प्रसून जोशी ने कहा कि भारत हमेशा से ही कान्स का हिस्सा रहा है. कान्स के दो पार्ट होते हैं. एक मार्केट और दूसरा जहां फिल्में दिखाई जाती हैं. दोनों ही हिस्से बेहद अहम होते हैं. यह साल हमारे लिए स्पेशल है, क्योंकि इस बार भारत को 'कंट्री ऑफ ऑनर' सम्मान मिलने वाला है.
उन्होंने आगे कहा कि सरकार और सभी सितारों-फिल्ममेकर्स ने इस बात को बेहद ही सीरियसली लिया है. हम सभी इंडस्ट्री के लेवल पर बातचीत करेंगे और पार्टनरशिप को लेकर अपनी बात रखेंगे. ग्लोबल आइडियाज पर बातचीत होगी. हम सभी के लिए यह एक अच्छा अवसर है या यूं कहिए की फेस्टिवल है, जिसे हम अपने लेवल पर अच्छी तरह एक्स्प्लोर कर सकते हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta