मनोरंजन

फिल्मों में कैसे शूट होता है सेक्स सीन? डायरेक्टर के 'कट' बोलने के बाद न्यूड नहीं घूमते एक्टर्स, जानिए क्या-क्या होता है

Admin1
26 Nov 2021 8:05 AM GMT
फिल्मों में कैसे शूट होता है सेक्स सीन? डायरेक्टर के कट बोलने के बाद न्यूड नहीं घूमते एक्टर्स, जानिए क्या-क्या होता है
x

DEMO PIC

फिल्मों में कई बार सिचुएशन के हिसाब से कई सेक्स सीन्स होते हैं. ये सीन रियल लगें, कहानी को बेहतर बना सके, मेकर्स की पूरी कोशि‍श होती है. लेकिन इन सीन को स्क्रीन पर देखना जितना आसान है, इनका शूट होना उतना ही मुश्किल है. इनके पीछे की कहानी जानकर आपको बेशक हैरानी होगी कि कैसे इंटीमेट सीन को शूट होते हैं.

एक हुकअप सीन को दमदार और ग्रेसफुल बनाने में काफी मेहनत लगती है. न्यूयॉर्क बेस्ड कोरियोग्राफर Tricia Brouk इन सीन्स को कोरियोग्राफ करने में माहिर हैं. वह अपने पार्टनर के साथ पहले सीन्स को करके दिखाती हैं. फिर वह एक्टर्स को यह सिखाती हैं. इससे किसी भी एक्टर को असुरक्षित महसूस नहीं होता. हॉलीवुड में इंटिमेसी कोरियोग्राफर भी होते हैं. उनका काम भी सेक्स सीन्स को कोरियोग्राफ करना होता है. इससे यह सीन्स किसी डांस नंबर या स्टंट सीन्स की तरह फिल्माए जाते हैं.
बहुत से एक्टर्स को न्यूड सीन्स देने में दिक्कत नहीं होती. लेकिन कई ऐसे भी होते हैं जो असहज महसूस करते हैं. ऐसे एक्टर्स के लिए कॉक सॉक और स्नैच पैच जैसी चीजें इस्तेमाल की जाती हैं. एक मेल एक्टर कॉक सॉक के इस्तेमाल से अपने प्राइवेट पार्ट को छुपाता है.
फिल्मों में सेक्स सीन्स के दौरान महिलाओं को लैंडिंग स्ट्रिप जैसी चीज पहनाई जाती है. इसे डबल टेप या फिर Bikini Bite नाम की चीज से चिपकाया जाता है. ऑन-सेट कॉस्ट्यूम डिजाइनर सारा बास्टा की मानें तो एक्ट्रेसेज के पीरियड्स होने पर भी उन्हें इंटिमेट सीन्स शूट करने पड़ते हैं.
एक्टर्स के लिए सेक्स सीन्स में बॉडी डबल्स का इस्तेमाल तक होता है, जब शूटिंग ज्यादा लम्बी चलती है. एक एक्टर को एक हॉलीवुड के हंक के लिए उसकी आने वाले टीवी सीरीज में सेक्स सीन्स शूट करने के लिए बुलाया गया था. एक्टर ने अपने एक्सपीरियंस को शेयर करते हुए बताया, 'मुझे बहुत-सी कामसूत्र की पोजीशन्स करनी पड़ीं. शूटिंग पांच से छह घंटे चली थी. अंत तक मेरे दोनों घुटने छिल गए थे. घाव हो गए थे. और मुझे घुटनों पर कई दिनों तक प्लास्टर के साथ रहना पड़ा था.'
बॉडी डबल के बारे में बात करने वाले एक्टर्स ने erections के बारे में भी बात की थी. उन्होंने कहा कि वह सीन से पहले ही अपने पार्टनर्स से बात कर लेते हैं. उन्होंने कहा, 'मैं कहता हूं अगर ऐसा हुआ तो मुझे माफ कर देना. नहीं हुआ, तो भी मुझे माफ कर देना. ऐसे में अगर मुझे अचानक से erection हो भी जाता है तो वो यह सोचकर नहीं डरेगी कि मैं एक्टिंग की हद से आगे बढ़ रहा हूं. और अगर ऐसा नहीं हुआ उसे रिजेक्टेड फील नहीं होगा. ऐसे में आपको कोई असहजता का सामना नहीं करना पड़ेगा.'
How to Get Away With Murder सीरीज में अपने रोमांटिक सीन्स के लिए एक्ट्रेस Viola Davis ने यह किया था. ट्रू ब्लड फिल्म में काम कर चुकीं मेकअप आर्टिस्ट Brigette Myre Sharpe मेकअप पर स्प्रे टैन करना पसंद करती हैं. Brigette कहती हैं, 'अगर आप खुद को स्प्रे टैन करते हैं तो आपको यह दूसरी स्किन जैसा महसूस होता है. ऐसा लगता है जैसे आपने ज्यादा कपड़े पहने हुए हैं.' साथ ही वह कहती हैं कि ड्राई स्प्रे टैन आपके बेड, फर्नीचर और दूसरे एक्टर्स पर नहीं लगता.
मेकअप आर्टिस्ट Rocio Jahanbakhsh बताती हैं, 'हम एक एक्टर्स को अलग-अलग तरह से पसीने में लथपथ दिखा सकते हैं. यह इस बात पर निर्भर करता है कि डायरेक्टर अपने एक्टर का पसीना बहता हुआ दिखाना चाहते हैं या फिर सिर्फ उन्हें स्वेटी लुक देना चाहते हैं. अगर मुझे सिर्फ ऑयली स्की का लुक देना होता है तो मैं वैस्लिन का इस्तेमाल करती हूं. बॉडी की बात आती है तो मैं बॉडी ऑइल के साथ पानी मिलाकर इस्तेमाल करती हूं.' Rocio ने आगे बताया कि वह Ultra Sweat नाम का बॉडी जेल और Mehron Sweat and Tears भी इस्तेमाल करती हैं.
Merkins नाम के प्राइवेट पार्ट कवर का इस्तेमाल हॉलीवुड में जारी है. मेकअप आर्टिस्ट Sharpe, मेरकिंस को pussy wigs बुलाती हैं. उन्होंने कई एक्ट्रेसेज पर नकली प्यूबिक हेयर लगाए हैं. उनका कहना है कि उनका सबसे पहला मकसद एक्टर्स को सहज महसूस करवाना है. इसके बदले एक्टर्स को और ज्यादा सेक्सी महसूस होता है.
नेटफ्लिक्स की सीरीज Crazy Ex-Girlfriend में काम कर चुके प्रॉप मास्टर Tom Cahill बताते हैं कि उनका डिपार्टमेंट इस बात का इन चार्ज है कि कौन सा सेक्स टॉयज किसी शो या मूवी के लिए सही होंगे. टॉम ने इस बारे में कहा, 'ब्रॉडकास्ट स्टैंडर्ड और प्रैक्टिस के चलते कुछ टीवी चैनल इस बात का ध्यान रखते हैं कि स्क्रीन पर कौन से टॉयज दिखाने हैं. मुझे याद है एक बार मुझे हेन पार्टी सीन मिला था. इस सीन में लड़कियों को कई सेक्स टॉयज यूज करने थे. मैंने कम से कम 100 अलग-अलग वाइब्रेटर की फोटोज भेजी थी, जिनमें से सिर्फ 8 से 10 इस्तेमाल किए गए थे. उनमें से कोई भी टिपिकल दिखने वाला वाइब्रेटर या डिल्डो नहीं था.'
एक सीन के शूट होने के समय एक्टर्स को न्यूड जरूर होना पड़ता है. लेकिन कॉस्ट्यूम या अन्य डिपार्टमेंट का कोई शख्स बाथरोब और स्लिपर लेकर सीन के बाद एक्टर्स को ढकने के लिए तैयार रहता है. सेक्स सीन के शूट होते ही उन्हें बाथरोब में लपेट दिया जाता है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it