मनोरंजन

1999 की फिल्म 'प्यार में कभी कभी' से हिंदी सिनेमा में अपनी शुरूआत करने वाले 45 वर्षीय डिनो मोरिया, अब 'द एम्पायर' में निगेटिव के रोल आएंगे नज़र

Mahima Marko
30 Aug 2021 5:48 AM GMT
1999 की फिल्म प्यार में कभी कभी से हिंदी सिनेमा में अपनी शुरूआत करने वाले 45 वर्षीय डिनो मोरिया, अब द एम्पायर में निगेटिव के रोल आएंगे नज़र
x
अभिनेता-निमार्ता डिनो मोरिया इस बात से सहमत हैं

जनता से रिश्ता वेबडेस्क|अभिनेता-निमार्ता डिनो मोरिया इस बात से सहमत हैं कि अभिनय कोई आसान काम नहीं है। वह लंबे समय से बिना काम के बैठे थे, लेकिन उन्होंने खुद को हमेशा तैयार रखा है। यह पूछे जाने पर कि क्या वह इस बात से सहमत हैं कि उद्योग हिट और मिस के माध्यम से एक अभिनेता के करियर को परिभाषित करता है और वह इसके बारे में क्या महसूस करते है, डिनो ने आईएएनएस के साथ बातचीत में कहा, "नहीं। मुझे लगता है कि आपको बस कड़ी मेहनत करनी होगी, कुछ भी असंभव नहीं है। मुझे सच में विश्वास है कि अगर आप खुद को साबित कर सकते हैं तो आपके पास काम आएगा। हां, यह आसान काम नहीं है।"

"मै इतने लंबे समय से बिना काम के बैठा हूं। मैं निर्देशकों और निमार्ताओं के दरवाजे खटखटा रहा हूं और कह रहा हूं कि 'अरे, मैं यहां हूं। मैं काम करना चाहता हूं, मुझे काम दो'।" 'द एम्पायर' में नकारात्मक नजर आने वाले डिनो ने कहा कि जब आपको मौका दिया जाए तो आपको तैयार रहना होगा।

'द एम्पायर' की कहानी पर आपत्ति के बारे में निखिल आडवाणी ने कही ये बात

1999 की फिल्म 'प्यार में कभी कभी' से हिंदी सिनेमा में अपनी शुरूआत करने वाले 45 वर्षीय अभिनेता ने साझा किया कि उन्होंने खुद को हमेशा तैयार रखा है। डिनो समझते हैं कि हिंदी फिल्म उद्योग किसी भी अन्य व्यवसाय की तरह है।

अभिनेता ने कहा, "यह एक रचनात्मक जगह है। एक निमार्ता के रूप में, मैं पैसा कमाना चाहता हूं। यह एक व्यवसाय है और इसी तरह मैं अन्य निमार्ताओं को कास्ट करना चाहता हूं क्योंकि वे पैसा कमाना चाहते हैं।"

उन्होंने कहा कि एक अभिनेता के रूप में मुझे तैयार रहना पड़ेगा और मुझे आगे बढ़ना पड़ेगा क्योंकि आज शानदार अभिनेता हैं लेकिन मुझे वास्तव में अपने खेल में माहिर होना चाहिए। इसलिए, यह केवल मुझे तय करना है कि मैं अपने जीवन में किस ओर जाना चाहता हूं।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta