सम्पादकीय

काश ! मेरे हाथ में जादू की छड़ी आ जाए

Subhi
28 April 2021 4:56 AM GMT
काश ! मेरे हाथ में जादू की छड़ी आ जाए
x
जब से कोरोना शुरू हुआ है मेरी हर प्रकार से कोशिश है कि हमारे सदस्य हर समय किसी न किसी एक्टिविटिज में व्यस्त रहें,

किरण चोपड़ा: जब से कोरोना शुरू हुआ है मेरी हर प्रकार से कोशिश है कि हमारे सदस्य हर समय किसी न किसी एक्टिविटिज में व्यस्त रहें, क्योंकि न तो वो बाहर जाएंगे और न उनका ध्यान कोरोना की तरफ जाएगा और हम इस कार्य में कामयाब हुए हैं, सफल हुए हैं परन्तु फिर भी इस दौरान हमने अपने कुछ सदस्यों को खोया है। गुजरांवाला टाऊन के सुरेश बंसल व उनकी पत्नी, जी.के. ब्रांच के हरीश गुप्ता जी, पंजाबी बाग ब्रांच के विजय खुराना जी (रूबी खुराना पंजाबी बाग ब्रांच के को-हैड) श्रीमती राधा, सचदेव, श्री रामेश भाटिया, डा. दीपक अग्रवाल, श्रीमती तनेजा, श्री हरि सिंह जी, श्रीमती सिन्दूरा थापर।

यह ऐसी महामारी है कि समझ ही नहीं लग रही, एकदम दूसरी लहर ऐसी फैली है कि सिस्टम गड़बड़ा गया है। दवाइयां, आक्सीजन, आईसीयू बेड की कमी हो गई है। मुझे मालूम है हमारे सशक्त पीएम और सारे राज्यों के सीएम मिलकर जल्दी स्थिति को सम्भाल लेंगे परन्तु जिनके घर के सदस्य जा रहे हैं वो बहुत दुख की बात है। सबसे बड़ी दुख की बात है कि जो इस समय लोग दवाइयां या जरूरत की चीज डबल रेट पर बेच रहे हैं या पैनिक फैला रहे हैं।

काश! मेरे पास जादू की छड़ी आ जाए। पहले तो मैं किसी को कोविड होने न दूं या हो जाए तो उसको सही समय पर दवाई, इलाज हो उसे दर-दर भटकना न पड़े। हर जगह लिस्ट लगी हो कि अगर आपको हल्का बुखार है तो घर पर आईसोलेट होकर इलाज कीजिए। अगर ज्यादा तबियत खराब है तो इस हास्पिटल में जाएं, अगर आईसीयू की जरूरत है तो इस हास्पिटल में, दवाइयों की जरूरत है तो यह कैमिस्ट आपको देगा।

बहुत सी संस्थाएं ऐसी हैं और बहुत से लोग ऐसे हैं जो आगे बढ़-चढक़र लोगों की हर तरफ से मदद कर रहे हैं। सबसे आगे सिख समाज है, जो आक्सीन, खाना, दवाइयां लोगों को मुहैय्या करवा रहा है। फिर इन्द्रापुरम का गुरुद्वारा, राधा स्वामी डेरा जो 1000 बेड की व्यवस्था कर रहा है। एक शंटी जी हैं जो जब कोविड से किसी की डेथ हो रही है उसे जलाने का काम, मुर्दों को उठाने का सबसे मुश्किल काम कर रहे हैं।

मैं ईश्वर से ऐसे लोग जो ईश्वर का रूप बनकर लोगों की सेवा कर रहे हैं, उनके लिए प्रार्थना करती हूं और उनको सब बुजुर्गों की तरफ से आशीर्वाद देती हूं कि वो ज्यादा से ज्यादा लोगों के काम आ सकें। जैसे दिल्ली के सीएम केजरीवाल और उनकी टीम मदद कर रही है। डा. हर्षवर्धन और उनकी टीम काम कर रही है। बहुत अच्छा सहयोग दे रहे हैं परन्तु यह महामारी इतनी तेजी से आ रही है कि केवल सरकार कुछ नहीं कर सकेगी, पब्लिक का और संस्थाओं को सहयोग देना होगा और इस समय इससे बड़ी ईश्वर की पूजा ही है। मेरे दिल की बात यही है कि मुझे ईश्वर इतनी शक्ति दे या जादू की छड़ी दे दे मैं सबके दुखों, तकलीफों को कम कर सकूं या होने ही न दूं। अभी हमारे सभी वरिष्ठ नागरिक दिल की बात बताने में व्यस्त हैं, बहुत अच्छा लग रहा है। उनका दिल का हाल जानकर, व्यस्त रहो, मस्त रहो। Stay Healthy and Safe ।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta