जरा हटके

महिला को मिला 46 साल पहले खोया हुआ बटुआ, जानें कैसे हुआ Miracle

Gulabi
7 Jun 2021 1:33 PM GMT
महिला को मिला 46 साल पहले खोया हुआ बटुआ, जानें कैसे हुआ Miracle
x
अगर आपसे पूछा जाए कि क्या आपको आपकी कोई ऐसी चीज याद है, जो

अगर आपसे पूछा जाए कि क्या आपको आपकी कोई ऐसी चीज याद है, जो अब से 46 साल पहले गुम हो गई हो, जैसे पैसे या पर्स… शायद आपका जवाब ये ही होगा कि इतने साल पुरानी बात कहां किसी को याद रहती है. आपकी बात सही है, इतनी पुरानी बात शायद ही किसी को याद हो, लेकिन तब क्या हो कि सालों इतने सालों पहले गुम हुई, वो ही चीज आपके पास वापस आ जाए और वो भी तब जब उसके बारे में भूल चुके हैं.

ऐसा ही एक मामला कैलिफोर्निया में सामने आया है, जहां साल 1975 में महिला का एक बटुआ खो गया था और वह उसे अब मिला है. दरअसल वेंचुरा की रहने वाली महिला थिएटर घूमने गई थी. जहां उसके साथ ये घटना हुई. इस बात का पता महिला को घर आने के बाद पता चला. छानबीन तो की लेकिन देखते ही देखते समय बीतता गया और महिला के दिमाग से भी बटुआ खोने की बात धुंधली हो गई.
46 साल बाद ऐसे मिला बटुआ
साल 2021 में दक्षिण कैलिफोर्निया के ऐतिहासिक मैजेस्टिक वेंचुरा थिएटर में सफाई के दौरान कचरे में उस महिला का पर्स मिला. ऐसे में इतने समय बाद महिला को ढूंढना बहुत मुश्किल था और बटुए में कर्मचारी को महिला का एक आईडी प्रूफ भी मिल गया था, लेकिन महिला की पहचान बहुत मुश्किल हो गई थी. ऐसे में कर्मचारी की मदद सोशल मीडिया ने की, जिसके बाद वो हुआ जिसकी शायद ही किसी ने उम्मीद की हो.
कर्मचारी टॉम स्टीवंय ने कहा कि यह पर्स मुझे सफाई के दौरान पुराने कैंडी बार रैपर, टिकट स्टब्स और सोडा के डिब्बे के बीच मिला. इसको खोलने पर उसमें पुरानी तस्वीरें और कुछ अन्य सामान देखने को मिले. इस पर्स कोई पैसे तो नहीं थे लेकिन तस्वीरों के अलावा 1973 का ग्रेटफुल डेड कॉन्सर्ट टिकट और कोलीन डिस्टिन नामक महिला का ड्राइविंग लाइसेंस था.
ऐसे मे कर्मचारी ने थिएटर के फेसबुक पेज पर इस कहानी को शेयर किया. जिसके बाद यह पोस्ट वायरल हो गया, जिसके बाद वेंचुरा में पली-बढ़ी डिस्टिन के पास इस बात की जानकारी पहुंची और उसे इस पोस्ट के बारे में कॉल आया तो 25 मई को उसने जवाब दिया कि बटुआ उसका था.
महिला ने बताया कि यह बिल्कुल टाइम कैप्सूल खोलने जैसा था. इस पर्स को उन्होंने साल 1975 में खो दिया था. इस समय उसकी उम्र महज 20 थीं. इस पर्स में एक संगीत कार्यक्रम के लिए पांच डॉलर का टिकट, कविता और उनकी मां की तस्वीर भी थीं, जिनका कई साल पहले निधन हो चुका है. इस बटुए के मिलते ही महिला भावुक हो गई क्योंकि ये बहुत समय बाद मिला था और इसमें कुछ ऐसी यादें थीं जिसके वापस मिलने की उन्होंने कल्पना भी नहीं की थी.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta