जरा हटके

यूक्रेन में पालतू जानवरों को बचाने में जुटा ये ब्रिटिश नागरिक, युदध् में फंसे बेजुबानों को बचाने के लिए पार कर दी सीमा

Gulabi
11 March 2022 8:22 AM GMT
यूक्रेन में पालतू जानवरों को बचाने में जुटा ये ब्रिटिश नागरिक, युदध् में फंसे बेजुबानों को बचाने के लिए पार कर दी सीमा
x
यूक्रेन में पालतू जानवरों को बचाने में जुटा ये ब्रिटिश नागरिक
यूक्रेन में वॉर का शिकार सिर्फ इंसान नहीं बन रहे. बल्कि वो बेजुबान भी बेसहारा हो रहे हैं जिनके मालिकों के घर तबाह हो गए. बम धमाकों के बीच पालतू जानवर भी घायल हो रहे हैं. कई की जान भी जा चुकी है. ऐसे में कई दिलों में अब भी इंसानियत बाकी है जो इस देश को हर तरह से मदद के लिए आगे आ रहे हैं.
गिलफोर्ड के सरे (Guildford, Surrey) के निक डैड (Nick Dad) ऐसे शख्स हैं जो यूक्रेन के नागरिक नहीं है. मगर वहां के वासियों के लिए उम्मीद की किरण हैं. जानवरों से बेहद प्यार करने वाले निक अपना ट्रक लेकर उस सीमा में दाखिल हो गए जहां जाना खतरे से खाली नहीं है. वहां पहुंचकर उन्होंने उन बेज़ुबानों को बचाने का बीड़ा उठाया है. जिनकी चिंता में उनके मालिक बेहाल हो रहे हैं.
यूक्रेन बड़े पैमाने पर पालतू जानवर भी प्रभावित
हर रोज़ हो रहे हमले, गोले बारूद के शोर के बीच इंसानों के लिए दिन काटना कितना मुश्किल है ये समझना नामुमकिन नहीं है ऐसे में ज़रा सोचिए बेचारे उन बेजुबानों का क्या हाल हो रहा होगा जो धमाकों की आवाज़ से डरकर दुबके रहने को मजबूर हैं. कई बार वो ज़ख्मी भी हो रहे हैं. उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं. कई बार संकट गहराने पर कुछ मालिक अपने पालतू जानवरों को छोड़कर भाग भी गए ऐसे में उन्हें आसरा और सहारा देने के लिए निक डैड अपना ट्रक भर कर उनके लिए ज़रूरत की चीज़े पहुंचाने का काम कर रहे हैं. यूक्रेन वासियों की मदद के लिए काम रहे निक ने अब वहां फंसे हर जानवर को बचाने का बीड़ा उठाया है. जिसके तहत बड़ी तादात में जानवरों को युद्ध ग्रस्त स्थल से रेस्क्यू कर पोलैंड में एडा फाउंडेशन पशु क्लिनिक (Ada Foundation Animal Clinic in Poland) में सुरक्षित पहुंचाया.
जानवरों के रेस्क्यू के लिए मदद की अपील
अब वह यूक्रेन के साथ सीमा के पास एक पोलिश शहर प्रेज़ेमिस्ल (Polish city Przemysl) में है, जहां नेटवर्क फॉर एनिमल्स फाउंडेशन एडीए रेस्क्यू शेल्टर (Network for Animals Foundation ADA Rescue Shelter) से अपने काम को संचालित कर रहे हैं. 1हजार से अधिक घायल और घायल पालतू जानवर पहले ही लाए जा चुके हैं. जिसमें बुधवार को एक कुत्ता भी लाया गया जिसे रूसी सैनिक ने पीठ में गोली मार दी थी जिसके बाद वो जीवन से संघर्ष कर रहा था. जिसे अब बचा कर लाया गया. निक के मुताबिक एक काफिले में एक साथ कुल 60 बिल्लियों को बचाया गया. सभी बेहद डरी हुई लग रही थीं कई और पालतुओं को भी लाया गया जिनमें से कई गंभीर रुप से घायल हैं उनका उपचार भी किया जा रहा है. हालांकि कई ऐसे हैं जिन्हें बचाना मुश्किल है. फिर भी कोशिश जारी है. वहीं निक डैड ने डेली स्टार के ज़रिए मदद की अपील की है. उन्होंने बताया की यूक्रेन में बड़ी तादात में पालतू जानवरों को मदद की ज़रूरत है. उनके रेस्क्यू के लिए एक और बड़ी गाड़ी की ज़रूरत है जिसके लिए उन्होंने फंड इकट्ठा करना शुरु किया है. वो हर हाल में सभी जानवरों को बचाने के संकल्प के साथ यूक्रेन में मौजूद हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta