जरा हटके

दुनिया का सबसे रहस्यमयी गांव, जहां बड़े होते ही लड़का बन जाती हैं लड़कियां

Tulsi Rao
24 Nov 2021 4:35 AM GMT
दुनिया का सबसे रहस्यमयी गांव, जहां बड़े होते ही लड़का बन जाती हैं लड़कियां
x
डोमिनिकन रिपब्लिक (Dominican Republic) देश में ला सेलिनास नामक (La Salinas Village) एक गांव है. यहां की लड़कियों का एक खास उम्र के बाद जेंडर चेंज (Gender Change) हो जाता है. इसके बाद यहां की लड़कियां, लड़का बन जाती हैं

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। अधिकांश लड़कों (Boys) और लड़कियों (Girls) के लिए यौवन एक अजीब और कठिन समय होता है. इस समय आवाज भारी होने लगती है, मूड स्विंग होता है तथा उन जगहों पर बाल आने शुरू हो जाते हैं, जहां पहले कभी नहीं होते. लेकिन अगर हम आपको बताएं कि दुनिया के नक्शे पर एक ऐसा गांव (La Salinas Village) है, जहां एक उम्र के बाद लड़कियां, लड़का (Girls turns into Boys) बन जाती हैं तो आप हैरान ही रह जाएंगे.

क्या हुआ, चौंक गए न आप? लेकिन यह बिल्कुल सच है. डोमिनिकन रिपब्लिक (Dominican Republic) देश में ला सेलिनास नामक (La Salinas Village) एक गांव है. यहां की लड़कियों का एक खास उम्र के बाद जेंडर चेंज (Gender Change) हो जाता है. इसके बाद यहां की लड़कियां, लड़का बन जाती हैं. इस कारण यहां के लोग गांव को श्रापित गांव (Cursed Village) मानते हैं. इस रहस्य का आज तक वैज्ञानिक भी पता नहीं लगा पाए हैं.
12 साल की उम्र में बन जाती हैं लड़का
ला सेलिनास गांव की कई लड़कियां 12 साल की उम्र में आते-आते लड़के में तब्दील होने लगती हैं. गांव की लड़कियों के लड़का बनने की 'बीमारी' की वजह से यहां के लोग बेहद परेशान रहते हैं. इस कारण गांव के कई लोगों का मानना है कि यहां किसी अदृश्य शक्ति का साया है. इसके अलावा कुछ बुजुर्ग लोग गांव को श्रापित मानते हैं. इस तरह के बच्‍चों को 'ग्वेदोचे' (Guevedoces) कहा जाता है.
जब गांव में किसी के घर लड़की का जन्म होता है तो उस परिवार में मातम पसर जाता है. क्योंकि उन्हें डर होता है कि उनकी बेटी बड़ी होने पर लड़का बन जाएगी. इस बीमारी के कारण गांव में लड़कियों की संख्या काफी कम होती जा रही है. इस रहस्यमयी बीमारी की वजह से आस-पास के गांव के लोग इस गांव को बुरी नजर से देखते हैं.
अनुवांशिक है यह बीमारी
समुद्र किनारे बसे इस गांव की आबादी 6 हजार के करीब है. अपने अनोखे आश्चर्य की वजह से यह गांव दुनियाभर के शोधकर्ताओं के लिए रिसर्च का विषय बना हुआ है. वहीं दूसरी तरफ डॉक्टर्स कहते हैं कि ये बीमारी 'आनुवंशिक विकार' है. स्‍थानीय भाषा में इस बीमारी से ग्रसित बच्‍चों को 'सूडोहर्माफ्रडाइट' कहा जाता है. जिन भी लड़कियों को यह बीमारी होती है, एक उम्र में आने के बाद उनके शरीर में पुरूषों जैसे अंग बनने लगते हैं. उनकी आवाज भारी होने लगती और शरीर में वो बदलाव आने शुरू हो जाते हैं, जो धीरे-धीरे उन्हें लड़की से लड़का बना देते हैं. गांव का 90 में से एक बच्चा इस रहस्यमयी बीमारी से जूझ रहा है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta