जरा हटके

13 घंटे तक बर्फीले पहाड़ में कुत्ते के साथ फंस गया मालिक, खबर पढ़कर लोग बोले- कुत्ते से बड़ा वफादार शायद ही कोई जानवर होगा

jantaserishta.com
5 Jan 2022 11:33 AM GMT
13 घंटे तक बर्फीले पहाड़ में कुत्ते के साथ फंस गया मालिक, खबर पढ़कर लोग बोले- कुत्ते से बड़ा वफादार शायद ही कोई जानवर होगा
x

DEMO PIC

अपने मालिक की जान बचाकर अपनी वफादारी का परिचय दिया है.

नई दिल्ली: क्रोएशिया के बर्फीले पहाड़ों में एक कुत्ते ने अपने मालिक की जान बचाकर अपनी वफादारी का परिचय दिया है. दरअसल, ग्रगा ब्रिकिक नामक पर्वतारोही अपने दो दोस्तों और एक कुत्ते के साथ क्रोएशिया के वेलेबिट माउंटेन रेंज पर हाइकिंग के लिए निकले थे. लेकिन हाइकिंग के दौरान ब्रिकिक को चोट लग गई, जिसके कारण वह हिल डुल नहीं पा रहे थे.

'डेली मेल' की एक खबर के मुताबिक, उनके दोनों दोस्त भी इस दौरान उनसे बिछड़ गए थे. उन्होंने ब्रिकिक को ढूंढने की कोशिश भी की. लेकिन वे उन तक पहुंच नहीं पाए. इसलिए उन्होंने मदद के लिए क्रोएशिया के माउंटेन रेस्क्यू सर्विस से संपर्क साधा. जब रेस्क्यू वाले ब्रिकिक को ढूंढते हुए उनके पास पहुंचे तो वहां का मंजर देखकर हैरान रह गए.
उन्होंने देखा कि ब्रेकिक का कुत्ता उनके ऊपर बैठा हुआ था. उसने ऐसा किया ताकि उसके मालिक को ठंड ना लग सके. रेस्क्यू वालों ने ब्रिकिक को बचाने का सारा श्रेक्य उनके कुत्ते दिया, जिसके कारण उनकी जान बच पाई. ब्रिकिक के कुत्ते का नाम नॉर्थ है और वह अलास्का मालाम्यूट नस्ल का है. नॉर्थ पूरे 13 घंटे अपने मालिक के ऊपर बैठा रहा जब तक कि रेस्क्यू वाले वहां नहीं पहुंच गए.
क्रोएशिया की माउंटेन रेस्क्यू सर्विस ने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, 'आदमी और कुत्ते के बीच दोस्ती और प्यार की कोई सीमा नहीं होती.'' उन्होंने दोनों की एक तस्वीर भी शेयर की है जिसमें नॉर्थ ब्रिकिक के ऊपर लेटा हुआ है. उन्होंने लिखा, ''बर्फीली ठंड में कुत्ते ने मालिक को गर्मी देने के लिए उन्हें अपनी बॉडी से पूरी तरह ढका रखा.''
ब्रिकिक जिस जगह फंसे थे, वह समुद्र तल से लगभग 1,800 मीटर ऊपर थी. उन्हें बचाने के लिए 30 लोगों की एक टीम पहुंची थी. ब्रिकिक ने क्रोएशियन मीडिया को बताया, ''उनके लिए वह समय निकालना काफी मुश्किल भरा था. उन्हें लग रहा था कि जैसे एक एक मिनट भी काफी देरी से बीत रहा है.'' उन्होंने कहा, ''यह छोटा कुत्ता मेरे लिए सच में एक करिश्मे की तरह है.''
वहीं, क्रोएशिया के माउंटेन रेस्क्यू सर्विस ने कुत्तों को लंबी पैदल यात्रा पर ले जाने खिलाफ चेतावनी दी है. विशेष रूप से सर्दियों के मौसम में जब पर्वतों में हालात मुश्किल भरे होते हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta