जरा हटके

घर के बाहर लगी डोरबेल कैमरा बना बड़ी परेशानी का सबब... पड़ोसी को देना पड़ा 1 करोड़ रुपये का हर्जाना

Bharti
13 Oct 2021 9:17 AM GMT
घर के बाहर लगी डोरबेल कैमरा बना बड़ी परेशानी का सबब... पड़ोसी को देना पड़ा 1 करोड़ रुपये का हर्जाना
x
घर के बाहर लगी डोरबेल (Doorbell) और घर-गाड़ी की सुरक्षा की दृष्टि से उसमें लगाया गया कैमरा (Camera) इतनी बड़ी परेशानी का सबब बन जाएगा,

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | घर के बाहर लगी डोरबेल (Doorbell) और घर-गाड़ी की सुरक्षा की दृष्टि से उसमें लगाया गया कैमरा (Camera) इतनी बड़ी परेशानी का सबब बन जाएगा, यह बात इस ब्रिटिश आदमी (British Man) ने सपने में भी नहीं सोची होगी. जिसके कारण अब इस आदमी को अपनी पड़ोसी को हर्जाने के रूप £100k (1 करोड़ रुपये से ज्‍यादा) देने पड़ सकते हैं. ब्रिटेन में रहने वाले 45 वर्षीय जॉन वुडार्ड की पड़ोसी ने डोरबेल के कारण अपना उत्‍पीड़न होने का आरोप लगाया था.

तोड़ा ब्रिटेन का डेटा कानून
द सन की रिपोर्ट के मुताबिक पड़ोसी महिला डॉ. मैरी फेयरहर्स्ट की शिकायत पर कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई की. ऑक्‍सफोर्ड काउंटी कोर्ट के जज ने कहा कि वुडार्ड के खिलाफ डेटा कानून तोड़ने (Broke Data Law) का मामला बनता है क्‍योंकि उन्‍होंने अपनी स्‍मार्ट रिंग डोरबेल (Smart Ring Doorbell) के कारण पड़ोसी की गोपनीयता भंग कर दी थी. इसके साथ ही जज ने वुडार्ड को अपनी पड़ोसी को भारी हर्जाना देने का फैसला सुनाया.
दरअसल, 2019 में चोरों ने जॉन की कार चोरी करने की कोशिश की थी. इसके बाद पेशे से ऑडियो-विजुअल टेक्‍नीशियन जॉन ने अपने घर के दरवाजे पर 4 डिवाइस लगा दिए थे, जिसमें कैमरा और माइक्रोफोन शामिल है. ये डिवाइस इंटरनेट से कनेक्‍टेड रहते हैं और जॉन की अनुपस्थिति में जब भी कोई उसके घर के बाहर आता है, वह डोरबेल में लगे कैमरे और माइक्रोफोन की मदद से एक ऐप के जरिए उससे बात कर लेता है.
पड़ोसन ने बताया निजता का उल्‍लंघन
जॉन की पड़ोसन डॉ फेयरहर्स्ट ने दावा किया कि डोरबेल कैमरा उसकी प्रायवेसी भंग कर रहे थे. वे जब भी घर से बाहर निकलती थीं, उन्‍हें ऐसा लगता था कि कोई उन्‍हें देख रहा है क्‍योंकि डोरबेल में लगा कैमरा उन्‍हें भी कैप्‍चर कर लेता था. कोर्ट ने इसे डेटा कानून का उल्‍लंघन माना है. वहीं फैसले के बाद जॉन सदमे में हैं क्‍योंकि उन्‍होंने यह कैमरा केवल अपने घर और गाड़ी की सुरक्षा के लिए लगाया था.माना जा रहा है कि यह यूके का स्‍मार्ट रिंग डोरबेल संबंधी पहला मामला है, जिसमें इतना बड़ा मुआवजा देना पड़ेगा.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it